Representational Pic
Representational Pic

    अमरावती. भाजपा ने शहर में मुस्मिल समुदाय के मोर्चे के दौरान दिनदहाड़े पथराव, लूटपाट व तोड़फोड़ के समय पुलिस पर मूकदर्शक बने रहने का आरोप लगाया है. घटना के निषेध में भाजपा ने शनिवार 13 नवंबर को बंद का आह्वान किया है. भाजपा प्रवक्ता शिवराय कुलकर्णी ने मोर्चा का कड़ा निषेध करते हुए कहा है कि यह संगठित अपराध है. राज्य शासन की व्यवस्था नाकाम साबित हुई है. इसके निषेध में सभी व्यापारी बंधुओं से शनिवार को दोपहर 4 बजे तक शहर में सभी दूकानें बंद रखने का आह्वान किया है.   

    7 संगठनों ने मांगी थी परमिशन

    त्रिपुरा घटना के निषेध में जिलाधीश कार्यालय पर दोपहर 3 बजे धरना आंदोलन करने के लिए 7 संगठनों ने शहर पुलिस से परमिशन मांगी थी. मोर्चे का कोई जिक्र नहीं किया गया था. जिसके कारण केवल 250 पुलिस कर्मियों को जिलाधीश कार्यालय पर तैनात किया गया था. लेकिन दोपहर 3 बजे के बाद हजारों लोगों का मोर्चा देखकर पुलिस ने ताबड़तोब अतिरिक्त पुलिस बल बुलाया.

    इस दौरान कुछ शरारती तत्वों ने उत्पात मचाकर पथराव किया. पुलिस उन उत्पातियों की शिनाख्त कर तुरंत कार्रवाई कर रही है. परमिशन मांगने वाले सभी सात संगठनों (आयोजक) के खिलाफ एफआईआर दर्ज की जा रही है. -विक्रम साली, डीसीपी