धारणी, चांदूर रेलवे में 2-2 सबस्टेशन बनेंगे; केंद्रीय ऊर्जामंत्री से मिली सांसद नवनीत

    अमरावती. मेलघाट के धारणी, चिखलदरा तथ जिले के सीमावर्ती ग्रामीण क्षेत्र में विद्युत व्यवस्था में सुधार के लिए सांसद नवनीत राणा ने केंद्रीय उर्जा मंत्री राजकुमार सिंह की मुलाकात की. जिसमें ऊर्जा मंत्री ने जिले में विद्युत सुधार के लिए 189 करोड़ रुपये मंजूर करने का दावा राणा ने किया है. इस निधि से धारणी के हरिसाल में 9.40 करोड़ की लागत से 33 केवी सबस्टेशन निर्माण होने के साथ धारणी, चांदूर रेलवे में 2-2 तथा संपूर्ण जिले में 33 केवी के 10 से 12 सबस्टेशन निर्माण होने की जानकारी उन्होंने दी है.

    जिले को मिलेगी अखंडित बिजली

    वर्तमान में मेलघाट में जरीदा समेत अन्य सीमावर्ति से लगे गांवों को अभी भी मध्य प्रदेश के बिजली स्टेशनों से बिजली आपूर्ति की जाती है. जिसके लिए प्रति माह 2 से 3 करोड़ रुपये मध्य प्रदेश सरकार को देने होते हैं. अब इस स्थान पर सबस्टेशन निर्माण से जिले के गांवों को जिले से ही बिजली की आपूर्ति की जाएगी, जिससे करोड़ों रुपये की बचत होने के साथ जरीदा जैसे कई दूरदराज के गांवों को 24 घंटे अखंडीत बिजली आपूर्ति होगी. 

    भूमिगत होगा बिजली कनेक्शन

    मेलघाट के 24 गांव आजादी के बाद से अंधेरे में हैं. सांसद नवनीत ने उर्जा मंत्री इन गांवों में बिजली आपूर्ति और आदिवासियों के विकास की बात कही तो केंद्रीय मंत्री ने संबंधित सचिवों को वन विभाग की एनओसी लेने और इन गांवों में तत्काल बिजली आपूर्ति करने के निर्देश दिए. इस 189 करोड़ रुपये की निधि से जिले में पुराने ट्रांसफार्मरों को बदलने, बिजली का रिसाव रोकने के कामों के साथ अमरावती-बडनेरा में सभी बिजली के खंभों को हटाकर बिजली लाइन भूमिगत की जाएगी. जिससे मुंबई-पुणे-नागपुर की तर्ज पर भूमिगत कनेक्शन से अमरावती जिला बिजली हानि मुक्त होगा.