fraud
Representative Pic

अमरावती. ग्रामीण क्षेत्रों के लोगों को सरकारी नौकरी लगा देने के बहाने ठगे जाने का मामला सामने आया है. अमरावती जिला परिषद में राष्ट्रीय ग्रामीण स्वास्थ्य अभियान अंतर्गत (एनआरएचएम) खुला प्रवर्ग से आशीष महादेवराव चुटे को स्वास्थ्य सेवक पद पर नियुक्ति का नकली नियुक्ति पत्र भेजा गया है. इतना ही नहीं जालसाजों ने नकली नियुक्ति पत्र पर सीइओ व डिप्टी सीइओ के पदों का उल्लेख कर उनके फर्जी हस्ताक्षर तक किए है. जिससे जिप में हड़कंप मच गया है. 

एनआरएचएम में नौकरी का झांसा 

इस बारे में जिला परिषद के डिप्टी सीइओ तुकाराम टेकाले ने गुरुवार की शाम जारी बयान में स्पष्ट किया कि जिला परिषद में स्थायी अथवा ठेका पध्दति से पद भर्ती के लिये बकायदा अखबारों में विज्ञापन जारी कर सूचना दी जाती है. साथ ही यह विज्ञान जिप की वेबसाइट पर भी अपलोड किया जाता है. जिसके बाद उम्मीदवारों से आवेदन मंगवाने के बाद एग्जाम अथवा साक्षात्कार लेने के बाद ही चयन किया जाता है. लेकिन कुछ बदमाशों द्वारा जिला परिषद में नौकरी का प्रलोभन दिया जा रहा है.

इसी क्रम में यह नकली नियुक्ति पत्र की जांच कर जालसाजों को पकड़ने के लिए जिप प्रशासन पुलिस थाने में रिपोर्ट दी जा रही है. डिप्टी सीइओ ने आह्वान किया है कि इस तरह के प्रलोभन अथवा बहकावे ना आए. कोई सरकारी नौकरी देने का लालच दे रहा है अथवा नियुक्ति पत्र दे रहा है तो तुरंत जिला परिषद के सामान्य प्रशासन के डिप्टी सीइओ से संपर्क करने का आह्वान किया है.