Flowers
File Photo: PTI

    अमरावती. हर वर्ष दशहरा-दीपावली पर गेंदा फूल के दाम आसमान छूते है, लेकिन इस वर्ष गेंदा फूल की बंपर आवक से फूलों के दाम रिकार्ड गिर गए है. कभी 100 से 120 रुपए किलो के दाम पर बिकने वाला गेंदा फूल इस वर्ष 50 से 60 रुपए किलो के दाम पर बिक रहा है. गुरुवार की सुबह 70 से 80 टन फूलों की आवक अमरावती मंडी में हुई. वहीं और देर रात तक 30 टन के लगभग फूल बाजार में पहुंचने के आसार है.

    दशहरा पर्व पर जहां हर चीज महंगे दामों पर बिक रही है. वहीं पूजा व सजावट में सर्वाधिक पसंद किया जाने वाला गेंदा फूल बेहद कम दाम पर बिक रहा है. जिससे लोगों को थोड़ी राहत महसूस हो रही है. विजयमादशमी की पूर्व संध्या पर गेंदा फूल 60 रुपए किलो के दाम पर बिक्री हुआ. लेकिन यदि ज्यादा आवक होती है, तो फूलों के दाम और लुढ़क सकते है. ऐसा फुल विक्रेताओं का कहना है.  

    अब तक नहीं थी डिमांड

    वैसे तो इस वर्ष भी कोरोना महामारी और अतिवृष्टि ने तीज त्योहारों का मजा किरकिरा कर रखा है. दूसरी अतिवृष्टि के चलते फूलों की खेती का भी बड़ी मात्रा में नुकसान हुआ है, लेकिन अब अनलाक की छूट के चलते कारोबार पटरी पर लौटने लगा है. त्योहारों के मुहाने पर फूलों की आवक भी रिकार्ड दर्ज कर रही है. फलस्वरूप फूलों के दाम लुढ़क गए है. अब तक शादियों के बड़े आयोजन, मंदिर तथा अन्य सार्वजनिक कार्यक्रम बंद रहने से फूलों की बिक्री प्रभावित ही थी, लेकिन अब सबकुछ अनलाक हो जाने से गेंदा फूल की आवक भी बढ़ गई है. 

    जगह-जगह सजी दर्जनों दूकानें 

    इस वर्ष दशहरा पर्व पर गेंदा फूल की बंपर आवक के कारण मंडी से बड़ी संख्या में फूलों की बिक्री हुई. फलस्वरूप शहर में राजापेठ, दस्तुरनगर, गांधी चौक, जयस्तंभ चौक, गाडगे नगर, रुक्मिनी नगर, यशोदा नगर चौक समेत सड़क किनारे जगह-जगह फूलों की दर्जनों दूकानें सजी दिख रही हैं.