Modi government aims to reduce road accidents by 50 percent by 2024
File Photo

अमरावती. केन्द्रीय मंत्री नितिन गड़करी के ड्रीम प्रोजेक्ट मेट्रो से अब अमरावतीवासी  लक्जरियस सफर का सपना पूरा कर सकेंगे. नागपुर से अमरावती के बीच की दूरी अब 1 घंटे 10 मिनट में तय होगी. डबल डेकर मेट्रो से यह सफर आसान होगा. 160 किमी प्रति घंटा की स्पीड वाली यह मेट्रो ट्रेन बीच में आने वाले स्टेशनों पर 1-1 मिनट के लिए स्टापेज लेगी. 

यात्रियों को परोसी जाएगी चाय-काफी

पूरी तरह एयरकंडीशन इस ट्रेन में 8 बोगियां होगीं. इनमें से एक बोगी केवल फलों और सब्जियों के लिए आरक्षित होगा. जबकि 1 बोगी में रेस्टारेंट होगा. एयर होस्टेस की तर्ज पर इस मेट्रो ट्रेन में होस्टेस तैनात रहेंगी. ट्रेन में यात्रियों को चाय-काफी भी परोसी जाएगी. यह सफर पूरी तरह आरामदेह होगा. नागपुर से गोंदिया 1 घंटा व वर्धा केवल 35 मिनट में तय होगा. एसी फर्स्ट क्लास व सेकंड क्लास की सुविधा इस ट्रेन में होगी. यह ट्रेन ब्राड़गेज पर दौड़ेगी. नागपुर-अमरावती-नरखेड़-नागपुर रूट पर यह ट्रेन दौड़ेंगी. आने वाले समय में यह ट्रेन बैतुल तक ले जाने की जानकारी है.  

स्थानीयों को निवेश का सुनहरा अवसर

मेट्रो के निजीकरण के तहत ट्रेन की बोगियों व इंजन पर निवेश करने का सुनहरा अवसर विदर्भ के उद्यमियों के लिए खुला किया गया है. ड्राइवर मेट्रो का होगा. सिग्नलिंग व अन्य बाहरी व्यवस्थाएं भारतीय रेल की होगी. जबकि ट्रेन के भीतर की व्यवस्था संबंधित निवेशकों की होगी. जिससे विदर्भ के उद्यमियों को इस क्षेत्र में काम करने का अवसर मिलेगा. बाहर के बड़े उद्योगपतियों की बजाय विदर्भ के उद्यमि इसमें काम करें. यह संकल्पना भी केन्द्रीय मंत्री नितिन गड़करी की है. उन्होंने उद्यमियों को आगे आने का आह्वान भी किया है.