NCP Akrosh Morcha

Loading

अमरावती. राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (शरद पवार गुट) द्वारा शहर के नेहरू मैदान से दोपहर 2.30 बजे के करीब किसानों का आक्रोश मोर्चा निकाला गया. सैकड़ों किसानों ने ट्रैक्टर के साथ उपस्थित रहकर जिलाधिकारी कार्यालय पर दस्तक दी. मोर्चे में ट्रैक्टर की संख्या अधिक रहने से मार्गों पर लंबी कतारें देखी गई. इस समय चप्पे-चप्पे पर पुलिस की पैनी नजर थी.

मोर्चे का नेतृत्व राकां के प्रदेश अध्यक्ष जयंत पाटिल, पूर्व गृहमंत्री अनिल देशमुख, महिला प्रदेश अध्यक्ष रोहिणी खडसे, पूर्व मंत्री गुलाबराव गावंडे,  पूर्व कृषि मंत्री हर्षवर्धन देशमुख, विधायक रोहित पवार ने किया. शहर के नेहरू मैदान से राकां द्वारा किसान आक्रोश मोर्चा निकाला गया. मोर्चे में सैकड़ों की तादाद में किसानों ने अपने ट्रैक्टरों के साथ नेहरू मैदान से राजकमल चौक, जयस्तंभ चौक, मालवीय चौक, बाबासाहेब आंबेडकर चौक, गर्ल्स हाईस्कूल चौक तथा जिलाधिकारी परिसर में पहुंचे. सैकड़ों ट्रैक्टरों मोर्च में किसी भी तरह की कोई घटना न हो इसके लिए पुलिस का तगड़ा बंदोबस्त लगाया गया था. जगह-जगह पर बैरिकेट लगाए गए थे. 

किसानों पर अन्याय के खिलाफ लगाए नारे

ट्रैक्टर पर सवार किसान सरकार से नुकसान भरपाई व किसानों पर हो रहे अन्याय के खिलाफ नारे लगा रहे थे. हर ट्रैक्टर पर 4 से 5 किसान सवार थे. मोर्चे में किसानों ने अपने परिवार के बच्चों को भी साथ लाया था. जैसे ही मोर्चा जिलाधिकारी कार्यालय पहुंचा तो वहां पर राकां नेताओं ने किसानों को मार्गदर्शन किया और अपनी मांगे बुलंद की और सरकार के समक्ष किसानों की समस्याएं रखी. 

इस समय मंच पर जयंत पाटिल, अनिल देशमुख, रोहिणी खडसे, गुलाबराव गावंडे, हर्षवर्धन देशमुख, रोहित पवार, राज राजपुरकर, पूर्व विधायक केवलराम काले, रविकांत वरपे, शरद तसरे, डॉ. हेमंत देशमुख, सुनील व-हाडे, गणेश राय, विनेश आडतिया, संगीता ठाकरे, वेदप्रकाश आर्य, विकास लवांडे, बाबाराव खडसे, अनंता इंगले, वहिद खान, रोशन कडू, संग्राम गावंडे, अमोल गुहाल, पूजा मोरे, शिवराज वाकोडे, विजय बहीसे, प्रकाश बोंडे व बड़ी संख्या में राष्ट्रवादी के कार्यकर्ता व पदाधिकारी उपस्थित थे.

NCP Akrosh Morcha

पुलिस की पैनी नजर

पुलिस आयुक्त नवीनचंद्र रेड्डी, डीसीपी सागर पाटिल, एसीपी पूनम पाटिल के मार्गदर्शन 6 पीआई, 10 एपीआई, पीएसआई तथा 100 से अधिक महिला व पुरुष कर्मचारियों द्वारा मोर्चे पर पैनी नजर रखी गई थी. 

किसान आक्रोश मोर्च में जिले के दर्यापुर, मोशी, वरूड, अचलपुर, भातकुली, तिवसा, वलगाव, चांदूर बाजार, चांदूर रेल्वे, धामणगांव रेलवे, नांदगाव खंडेश्वर, लोणी टाकली व आसपास के कई ग्रामीण इलाके के किसान मोर्चे का हिस्सा बने थे. इस मोर्च में किसानों ने अपने छोटे बच्चों को भी साथ लाया था. अपनी जायज मांगों को लेकर किसानों ने सरकार के खिलाफ जमकर आक्रोश व्यक्त किया.

राकां अल्पसंख्यक पदाधिकारियों ने किया शरबत वितरण

राकां द्वारा किसानों के हित के लिए आज नेहरू मैदान से आक्रोश मोर्चा निकाला गया. मोर्चे में महिलाएं, पुरूष, बुजुर्ग, बच्चे सभी शामिल हुए थे. इसी को ध्यान में रखते हुए राष्ट्रवादी अल्पसंख्यक शहराध्यक्ष वहीद खान मित्र मंडल की ओर से शरबत वितरण किया गया. इस समय जावेद हबीब, भाई शाहजहान कुरेशी, नौशाद सेठ, मो. शोएब, अरबाज खान, विनेश आडतिया, सैय्यद जाविद, शेख जाबिर, साजिद खान, अंसार शाह व बडी संख्या में कार्यकर्ता उपस्थित थे.