Maha Shivratri 2022
File Photo

    अमरावती. माहेश्वरी महिला मंडल द्वारा श्रावण सोमवार को माहेश्वर भवन स्थित मंदिर में शिवजी को चने की दाल के सवा लाख दाने (लाखोली) चढाए. ओम नमः शिवाय का जाप करते हुए सभी ने चना दाल की लाखोली चढाई. इस समय ओम नम: शिवाय का जाप तथा सतत जाप व भजन से माहौल भक्तिमय हो गया. पश्चात लाखोली की आरती कर प्रसाद वितरण किया गया.

    इस उपक्रम में अध्यक्षा राणी करवा, सचिव पुजा तापडीया कोषाध्यक्ष कृष्णा राठी, जिलाध्यक्ष रेणू केला, कोषाध्यक्ष उषा राठी, संध्या केला, शशी मुंदडा, माधवी करवा, शोभ बजाज, शोभा राठी, किरण मुंदडा पूर्वध्यक्ष विजया राठी सुनिता राठी, सुनिता करवा, वैशाली जाजु, ललीता लखोटिया, अर्चना बजाज, सोनाली राठी, सुनीता करवा, मंजू करवा, वैष्णवी करवा, मंजू राठी, नलीनी बजाज, रेखा हेडा, शशी लाहोटी, अरुणा भट्टड, पुनित राठी, वैष्णवी करवा पुजा करवा, ईद्रकांता सुदा, विशाखा चांडक, मंजू करवा, सुचिता करवा, कांता राठी, कोयल सोनी, दुर्गा झंवर, संगीता, कांता राठी, राधा काकाणी आदि सम्मिलीत हुई.

    शिवालयों में उमडी भीड 

    हिंदी भाषियों का तीसरा तथा मराठी भाषियों के पहले सोमवार को शिवालयों में शिवभक्तों की भीड उमडी. गडगडेश्वर, तपोवनेश्वर, कोंडेश्वर, भूतेश्वर, सोमेश्वर मंदिर समेत अन्य महादेव मंदिरों में बम बम भोले की गूंज रही. शिवालयों में सुबह से ही भक्तों का तांता लगा रहा. मंदिरों में सुबह पांच बजे से ही शिव अर्चना, शिव चालीसा आदि के पाठ शुरू हुए. श्रद्धालुओं ने मंदिरों में पहुंचकर भगवान भोलेनाथ का दूध, बिल्व पत्र, धतूरा आदि चढ़ाकर अभिषेक किया. शिवालयों में बम-बम भोले के जयकारे गूंज रहे हैं. श्रद्धालु मंदिर परिसर में या अपने-अपने घरों में पार्थिव शिवलिंग बनाकर बेलपत्र व पुष्प अर्पित करने के साथ जलाभिषेक किया जा रहा है.