शौचालय घोटाला: ढाई करोड़ रिकवरी की प्रकिया शुरु, मनपा ने अदालत से अनुमति मांगी

    अमरावती. महानगर पालिका के अब तक के इतिहास का सबसे बड़ा घोटाला साबित हुए शौलालय घोटाले में आरोपियों द्वारा गबन किए गए ढ़ाई करोड़ रुपयों की रिकवरी का नियोजन किया जा रहा है.  जिसके लिए अदालत से अनुमति भी मांगी गई है. अदालत के निर्देशानुसार इस मामलें के आरोपियों से पैसों की वसूली कि जाएंगी. ऐसी जानकारी भी मनपा आयुक्त प्रशांत रोड़े ने दी. 

    पुलिस के माध्यम से हस्ताक्षर जांच 

    मनपा के बड़नेरा जोन अंतर्गत उजागर हुए ढाई करोड़ के शौचालय घोटाला मामलें से जुड़ी फाईलों पर मनपा के विभिन्न अधिकारियों के फर्जी हस्ताक्षर करने का दावा संबंधित अधिकारी कर रहे है. उन अधिकारीयों के हस्ताक्षरों की जांच पुलिस के माध्यम से कराई जा रही है. जिसके लिए हस्तक्षर एक्सपर्ट की मदद ली जा रही है. मनपा की आमसभा में भी इस मामलें में हंगामा होने के बाद महानगर पालिका प्रशासन द्वारा पुलिस से इस मामलें में आगे की कार्रवाई निबटाने पर जोर दिया गया है. 

    सभी आरोपी है जमानत पर 

    ढाई करोड़ रुपए के शौचालय निर्मिती घोटाला मामले में मनपा की शिकायत में इस वित्तिय अपहार तथा ढाई करोड़ रुपयों के गबन की शिकायत में नामजद मनपा के लिपिक, ठेकेदार व मनपा कर्मियों समेत सभी आरोपी जमानत पर रिहा हो गए है.  ऐसे में अब मनपा के ढ़ाई करोड रुपए वसुल कैसे होंगे यह देखना है.