File Photo
File Photo

    औरंगाबाद. बीते एक माह से शहर में कोरोना महामारी (Corona Epidemic) ने फिर से बड़े पैमाने पर पांव पसारना शुरु किया है। इससे चिंतित प्रशासन ने 11 मार्च से 4 अप्रैल तक आंशिक लॉकडाउन लगाया  है। आंशिक लॉकडाउन के दौरान हर शनिवार और रविवार को सख्त लॉकडाउन (Strict Lockdown) लगाने का निर्णय लिया है। इस निर्णय के तहत शनिवार से दो दिन तक सख्त लॉकडाउन रहेगा। लॉकडाउन में जरुरी सेवाएं छोड़कर सभी बाजार पूरी तरह बंद रहेंगे। 

    जरुरी सेवाओं को जारी रखने का निर्णय प्रशासन ने लिया हैं, उनमें स्वास्थ्य सेवा, प्रिंट और इलेक्ट्रानिक मीडिया, दूध बिक्री व आपूर्ति, सब्जी बिक्री व आपूर्ति, फल बिक्री व आपूर्ति, जीवनावश्यक वस्तुएं दुकान, पेट्रोल पंप, गैस एजेंसी, सभी प्रकार की यातायात सेवा जिसमें रिक्शा सेवा, निर्माण कार्य, उद्योग व कंपनियां, किराना दुकान, चिकन, मटन, अंडे की दुकान, गैरेज, वर्कशॉप, पशु खाद्य दुकान, बैंक व पोस्ट सेवा उनके नियमानुसार सेवा जारी रखने के लिए सहुलियत रहेगी।

    लॉकडाउन में बाजार पूरी तरह रहेंगे बंद 

     दो दिवसीय सख्त लॉकडाउन में दुकान व व्यापार बाजार के अलावा शहर के सबसे बड़े मॉल बंद रहेंगे। इसके अलावा सिनेमा थियेटर, नाटयगृह को बंद रहेंगे। होटल व रेस्टारंट चालक प्रत्यक्ष रुप से डायनिंग सुविधा नहीं दे पाएंगे, परंतु होम डिलीवरी के लिए रात 11 बजे तक खुले रख पाएंगे। सभी निजी कार्यालय बंद रहेंगे।  इधर, गुरुवार शाम से आंशिक लॉकडाउन शहर में लगाने के बाद रात 9 से सुबह 6 बजे तक नाइट कर्फ्यू लगाया गया है। 

    नाइट कर्फ्यू का समय 2 घंटे बढ़ा दिया गया

    पहले नाइट कर्फ्यू रात 11 से सुबह 6 बजे तक जारी था। गुरुवार की रात से नाइट कर्फ्यू का समय 2 घंटे बढ़ा दिया गया। गुरुवार व शुक्रवार की रात नाइट कर्फ्यू का असर बड़े पैमाने पर देखा गया। शहर के प्रमुख बाजार पैठण गेट, औरंगपुरा,गुलमंडी, सिडको-हडको, रोशन गेट, किराडपुरा, बीड बाईपास, रेलवे स्थानक व बस स्थानक परिसर, टीवी सेंटर में रात 8 बजे के बाद ही व्यापारियों ने अपने दुकान बंद रखने को तरजीह दी। जिसके चलते रात 9 बजे के बाद शहर के प्रमुख बाजारों में सन्नाटा छाया हुआ नजर आया। उधर, शहर में बीते दो दिन में डेढ़ हजार से अधिक संक्रमित मरीज पाए जाने से प्रशासन ने सख्त कदम उठाने शुरु किए है। प्रशासन ने शहर की सबसे बड़ी सब्जी मंडी जाधववाडी को एक सप्ताह के लिए बंद रखा है।