corona crisis

    औरंगाबाद : शहरवासी कोरोना महामारी (Corona Epidemic) के तीन लहरों का सामना कर चुके है। गत कुछ महीने से शहर में कोरोना महामारी का खात्मा पूरी तरह हो चुका था।  जिससे औरंगाबाद वासियों (Aurangabad Residents) ने राहत की सांस ली थी। इसी दरमियान जून महीना आरंभ होते ही शहर में फिर एक बार कोरोना महामारी ने पांव पसारने (Spreading Feet) शुरु किए है। मंगलवार को कोरोना महामारी से पीड़ित 6 मरीज पाए जाने के बाद बुधवार को और 8 मरीज पॉजिटिव पाए गए है। 

    बारिश का मौसम आरंभ होते ही शहर में कोरोना मरीजों की संख्या में हो रहे इजाफे से महानगरपालिका का स्वास्थ्य विभाग काफी चिंतित है। गत सप्ताह शहर में कोरोना महामारी से पीड़ित 21 मरीज पाए गए थे। चालू सप्ताह के प्रथम दिन एक भी मरीज पॉजिटिव नहीं पाया गया था, परंतु गत दो दिन में 15 मरीज महामारी से पीड़ित पाए जाने से लोगों में फिर एक बार महामारी के फैलाव की चिंता सता रही है। महानगरपालिका के स्वास्थ्य विभाग ने बताया कि बुधवार को कोरोना पॉजिटिव पाए गए 8 मरीजों पर घर में ही इलाज जारी है। वर्तमान में शहर में 20 मरीज एक्टिव है। 

    मास्क पहनना शुरू करें नागरिक

    बारिश का मौसम आरंभ होते ही शहर में फिर एक बार कोरोना महामारी ने पांव पसारने से चिंतित मनपा के स्वास्थ्य विभाग ने शहरवासियों से मास्क का दूबारा इस्तेमाल शुरू करने की अपील की है। साथ ही बार-बार साबुन से हाथ धोना और सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करने की अपील महानगरपालिका प्रशासन ने शहरवासियों से की है। बता दे कि शहर में कोरोना महामारी के प्रथम दो लहरों के समय शहरवासियों को काफी समस्याओं का सामना करना पड़ा था। परंतु, तिसरी लहर शहर में अधिक असर नहीं दिखा पाई थी। जिसके चलते गत 7 से 8 महीने से नागरिकों में कोरोना महामारी का डर खत्म हो चुका है।  परंतु, फिर एक बार शहर में कोरोना महामारी ने पांव पसारने के चलते नागरिक चिंतित है।