Devagiri Engineering College ties up with Magic Sanstha

    औरंगाबाद. स्टार्ट-अप इकोसिस्टीम संशोधन केंद्र (Start-up Ecosystem Modification Center) स्टार्ट-अप ब्लिंक (Start-up Blink) ने जाहिर की सूची में औरंगाबाद शहर (Aurangabad City) को प्रथम एक हजार बेस्ट डेस्टिनेशन फॉर स्टार्टअप का सम्मान मिला।  इसी सम्मान के बाद देवगिरी इंजीयनिंग कॉलेज और मराठवाड़ा एक्सिीलेटर फॉर ग्रोथ एंड इन्क्युबेशन कौन्सिल (Marathwada Accelerator for Growth and Incubation Council) यानी मैजिक (MAGIC)के  बीच हाल ही में सामंजस्य करार हुआ। 

    सामंजस्य करार का मुख्य उद्देश्य यानी मराठवाड़ा के जरुरत मंद युवाओं को खुद का उद्योग उभारने में मदद मिलना,  नव उद्यमियों को तज्ञों की ओर से बेहतर मार्गदर्शन करना, नए-नए संकल्पनाओं को उद्योगों में परावर्तित करने के लिए इन्क्युबेशन सेंटर के माध्यम से हर तरह की मदद प्रदान करने के अलावा देवगिरी इंजीनियरिंग कॉलेज ने छात्रों में संज्ञानात्मक क्षमता विकसित करने के साथ ही स्टार्ट-अप उपक्रमों को समर्थन देने के उददेश्य से इनोवेशन और स्टार्ट-अप कौंसिल की स्थापना की गई। 

    इस अवसर पर प्रमुख रुप से मराठवाड़ा शिक्षण प्रसारक मंडल के सचिव सतीश चव्हाण, सीएमआईए के अध्यक्ष शिवप्रसाद जाजू, कॉलेज के संचालक डॉ. उल्हास शिवुरकर, मैजिक के औरंगाबाद संचालक आशीष गर्दे ने नवउद्योजकों को आनेवाले संभावित परेशानियां, राष्ट्रीय और अंतर्राष्ट्रीय स्तर के विविध कार्यशाला तथा मार्गदर्शन शिविर आयोजित करना,उद्योग क्षेत्र के मूलभूत सुविधाएं ऐसे कई विषयों पर चर्चा की। कार्यक्रम में  रितेश मिश्रा, सुरेश तोडकर, शेख सलीम शेख अहमद, विश्वास येलीकर, संजीव सेठ, रेणुका देशपांडे, मैजिक के सीईओ रोहित औटी, प्रा. प्रकाश तौर, प्रा. सत्यवान धोंडगे, प्रा. गजेन्द्र गंधे, प्रा. राजेश औटी, प्रा. संजय कल्याणकर, प्रा. रुपेश रेब्बा उपस्थित थे।