Aastik Kumar Pandey

    औरंगाबाद: दो दिन पूर्व शहर से हर्सूल परिसर में सूखे कचरे पर प्रक्रिया करनेवाले प्रकल्प का शेड और मशीनरी नए से स्थापित कर  कचरा प्रक्रिया केन्द्र आगामी एक माह में शुरु करने और चिकलथाना के घनचकरा प्रक्रिया प्रकल्प में अप्रैल माह में आग (Fire) लगकर शेड सहित मशीनरी के हुए नुकसान की मरम्मत तत्काल कर  आगामी एक सप्ताह में कचरा प्रक्रिया केन्द्र शुरु करने के आदेश औरंगाबाद महानगरपालिका (Aurangabad Municipal Corporation) प्रशासक आस्तिक कुमार पांडेय (Aastik Kumar Pandey) ने संबंधित विभाग के अधिकारियों को दिए हैं।

     पांडेय हर्सूल परिसर में स्थित महानगरपालिका के सुखा कचरे पर प्रक्रिया करनेवाले केन्द्र पहुंचे और उन्होंने वहां दो दिन पूर्व लगे आग में हुए नुकसान का जायजा लिया। इस दौरे में उन्होंने आग में जलकर खाक हुए इलेक्ट्रानिक केबल, इलेक्ट्रानीक मीटर, सीसीटीवी कैमरे, जला हुए शेड, बेलिंग मशीन, कन्वेयर बेल्ट, फोर क्लेप मशीन का निरीक्षण कर आग लगने के कारणों का जायजा लिया।

    आग लगने की कारण की जांच के आदेश

    आग क्यों लगी इसके जांच के आदेश संबंधित अधिकारियों को दिए। उन्होंने आग  से जलकर खाक हुए मशीन तत्काल हटाकर आगामी एक माह में नए मशीनरी स्थापित कर कचरा प्रक्रिया केन्द्र शुरु करने के आदेश दिए।

    ठेकेदार पर 2 लाख का जुर्माना 

    उसके बाद पांडेय चिकलथाना के घनकचरा प्रक्रिया प्रकल्प केन्द्र पहुंचे। तब उन्हें चिकलथाना कचरा प्रक्रिया केन्द्र पर लगे 13 में से 2 सीसीटीवी कैमरे बंद नजर आए। सीसीटीवी बंद होने को लेकर पांडेय काफी गुस्सा गए और उन्होंने ठेकेदार को 2 लाख रुपए जुर्माना लगाने के आदेश दिए।  गौरतलब है कि अप्रैल माह में चिकलथाना के कचरा प्रक्रिया प्रकल्प को आग लगी थी। उस घटना में उक्त प्रक्रिया प्रकल्प में स्थित शेड, बेलिंग मशीन, प्री शार्टटिंग मशीन, श्रेडर मशीन, प्रोसेसिंग मशीन का नुकसान हुआ था।  इसका भी पांडेय ने निरीक्षण किया। उन्होंने अधिकारियों को आदेश दिया कि इस कचरा प्रक्रिया प्रकल्प का काम भी आगामी एक सप्ताह में पूरा किया जाए। इस दौरे में पांडेय के साथ शहर अभियंता एसडी पानझडे, घनकचरा व्यवस्थापन विभाग प्रमुख और उपायुक्त सोमनाथ जाधव, सफाई निरीक्षक विशाल खरात उपस्थित थे।