औरंगाबाद में जानें क्यों  मनसे ने किया कलेक्टर सुनील चव्हाण के खिलाफ आंदोलन

    औरंगाबाद: शहर सहित जिले में इन दिनों टीकाकरण मुहिम को गति देने के लिए कलेक्टर सुनील चव्हाण द्वारा नियमों को ताक पर रखकर की जा रही मनमानी से औरंगाबाद वासी त्रस्त हुए है। पेट्रोल पंप पर पेट्रोल देते समय वाहन धारकों से टीका लगाने का प्रमाणपत्र की जांच के लिए लापरवाही करने  पर रविवार देर  शाम जिला प्रशासन द्वारा बाबा पेट्रोल पंप सील किया गया। इससे गुस्साएं मनसे के जिला इकाई के पदाधिकारियों ने जिलाध्यक्ष सुहास दाशरथे के नेतृत्व में क्रांति चौक में स्थित पेट्रोल पंप पर आंदोलन कर जिला प्रशासन के मनमानी पर कड़ी नाराजगी जताई।

    गौरतलब है कि हाल ही में कलेक्टर सुनील चव्हाण ने टीकाकरण मुहिम को गति देने के लिए राज्य में हटकर नए-नए नियम लागू किए। कलेक्टर सुनील चव्हाण द्वारा अपने पद का दुरुपयोग कर पेट्रोल पंप धारकों को हर वाहन धारक का टीका लगाया हुआ प्रमाण पत्र जांच कर ही पेट्रोल देने का नया फरमान जारी किया। इस फरमान से शहर के सभी पेट्रोल पंप धारक त्रस्त है। इसी दरमियान रविवार शाम शहर के बाबा पेट्रोल पंप पर वाहन धारकों को बिना टीकाकरण प्रमाण पत्र जांच किए पेट्रोल दिए जाने पर कलेक्टर चव्हाण के निर्देश पर बाबा पेट्रोल पंप सील किया गया। जिला प्रशासन के इस कार्रवाई से शहर सहित जिले भर के पेट्रोल पंप धारकों में खलबली मची है। 

    कलेक्टर चव्हाण की  मनमानी के खिलाफ आंदोलन 

    कलेक्टर चव्हाण ने अपने पद का दुरुपयोग कर बाबा पेट्रोल पंप सील किए जाने पर गुस्साएं मनसे पदाधिकारियों ने जिलाध्यक्ष सुहास दाशरथे के नेतृत्व में क्रांति चौक में स्थित पेट्रोल पंप पर आंदोलन कर पंप धारक  एसोसिएशन को समर्थन दिया। दाशरथे ने कहा कि प्रशासन पहले टीकाकरण मुहिम को गति देने के लिए बेहतर सुविधाएं उपलब्ध कराए। टीका लगाने के लिए टीकाकरण केन्द्र पर लोगों को घंटों इंतजार करना पड़ रहा है। प्रशासन टीकाकरण मुहिम को गति देने के लिए अपने नियोजन में सुधार लाए। प्रशासन अपने नियोजन में सुधार न लाते हुए कलेक्टर सुनील चव्हाण अपने पद का दुरुपयोग कर मनमानी करते हुए नए-नए फरमान जारी कर लोगों को परेशान कर रहे है। 

    पेट्रोल पंप सील किए जाने पर जताई नाराजगी

    दाशरथे ने बाबा पेट्रोल पंप सील किए जाने पर कड़ी नाराजगी जताते हुए चेताया कि   कलेक्टर चव्हाण ज्यादा दिखावे वाला काम  ना करें, वरना मंगलवार को उन्हें घेराव डाला जाएगा। दाशरथे ने कहा कि पेट्रोल पंप धारकों को टीकाकरण के नाम पर परेशान करने का अधिकार कलेक्टर को नहीं है। मनसे ने पेट्रोल पंप एसोसिएशन को समर्थन देते हुए जिला प्रशासन को चेताया कि वे इस तरह का मनमानी वाला फरमान मंगलवार तक वापस लें वरना मनसे पदाधिकारी कलेक्टर  चव्हाण को घेराव करेंगे । आंदोलन में मनसे के जिलाध्यक्ष सुहास दाशरथे के अलावा संदिप कुलकर्णी, विशाल विराले, सोमु पाटिल, अमित जैसवाल, राहुल कुलकर्णी वृषभ रगडे के अलावा बड़ी संख्या में कार्यकर्ता उपस्थित थे।