Organizing the Amrit Festival of Independence

    औरंगाबाद. देश के आजादी को 75 वां साल आरंभ होने के उपलक्ष्य में औरंगाबाद महानगरपालिका की ओर से आजादी का अमृत महोत्सव का आयोजन किया गया है। इस महोत्सव का उदघाटन कई लोगों की उपस्थिति में किया गया है। आजादी के लिए बलिदान दिए स्वतंत्रता सेनानियों के त्याग और बलिदान की यादों को याद  रखकर देश को मिली आजादी अबाधित रखते हुए देश के हर नागरिक ने तन-मन से साथ रहने की अपील ।

    औरंगाबाद महानगरपालिका और लायन्स क्लब औरंगाबाद चिकलथाना के संयुक्त तत्वावधान में लायन्स क्लब नेत्र अस्पताल सिडको एन-1 में आजादी के अमृत महोत्सव के उदघाटन कार्यक्रम का आयोजन किया गया था। कार्यक्रम की अध्यक्षता शहर के सीपी डॉ. निखिल गुप्ता ने की। उदघाटन समारोह के संयोजक महानगरपालिका कमिश्नर आस्ति कुमार पांडेय थे। इस अवसर पर प्रमुख रुप से विधायक अतुल सावे, पूर्व मेयर नंदकुमार घोडेले, छावनी परिषद के सीईओ विक्रांत मोरे, पूर्व नगरसेवक राजू शिंदे, औरंगाबाद चिकलथाना लायन्स क्लब के अध्यक्ष डॉ. मनोहर अग्रवाल, औरंगाबाद चिकलथाना लायन्स क्लब के चैयरमैन बीएस राजपाल, महानगरपालिका के शहर अभियंता सखाराम पानझडे आदि उपस्थित थे। 

    भारत में आजादी और लोकतंत्र निरंतर टीकी रहेगी 

    शहर के सीपी डॉ. निखिल गुप्ता समारोह के उदघाटन के बाद अपने विचार में कहा कि भारत की आजादी और यह आजादी टिकेंगी या नहीं इस भविष्यवाणी को भारतियों ने झूठलाते हुए 75 साल पूरे किए। इसके आगे भी देश में आजादी और लोकतंत्र निरंतर टीका रहेगा। देश में जाति, धर्म, भाषा असंख्य होने से उसमें मतभेद जरुर है। लेकिन, यह मतभेद निचले स्तर तक नहीं पहुंचते। राज्यकर्ता और नागरिक हाथ में हाथ डालकर देश को प्रगति की ओर ले जा रहे है। भारत माता की जय, वंदे मातरम  के जोरदार नारे लगाए गए। सिडको एन-1 के दोनो सड़कों के बाजू में आजादी के अमृत महोत्सव के उपलक्ष्य में 5 किलोमीटर तक की दीवारों को सजाया गया था।  महात्मा गांधी की पेटिंग की हुई फोटो देखकर सभी मंत्रमुग्ध हुए।