Parking policy in Aurangabad from January

  • 5 सड़कों पर होगा हॉकर्स जोन का प्रयोग

औरंगाबाद. कई सालों से प्रलंबित पार्किंग (Parking) और पथविक्रेता नीति (Hawkers Zone)शहर में लागू करने का निर्णय औरंगाबाद महानगरपालिका (Aurangabad Municipal Corporation) ने लिया है. जनवरी (January) के प्रथम सप्ताह से सिडको, कैनाट गार्डन, पुंडलीकनगर, टीवी सेंटर, निराला बाजार (CIDCO, Canat Garden, Pundaliknagar, TV Center, Nirala Bazar) और उस्मानपुरा इन 5  स्थानों पर इस बारे में प्रयोग किया जाएगा. पार्किंग नीति तय करने के लिए एक बैठक ली गई. बैठक में मनपा और पुलिस के अधिकारी उपस्थित थे. 

शहर के ‘पार्किंग नीति’ तय करने के लिए कुछ सालों से मनपा का प्रयास जारी है. प्रशासक आस्तिककुमार पांडेय ने पार्किंग नीति की ओर विशेष लक्ष्य केन्द्रीत किया है. उपायुक्त अपर्णा थेटे के नेतृत्व में समिति स्थापित की गई है. इस बारे में फेरीवाला नीति पर भी अमलीजामा पहनाने पर विस्तृत चर्चा की गई. पार्किंग नीति तय करने के लिए संपन्न हुई बैठक  में यातायात शाखा के एसीपी सुरेश वानखेडे प्रमुख रुप से उपस्थित थे. पार्किंग, फेरीवालों के नियंत्रण के लिए क्या उपाय करने चाहिए? इस पर चर्चा की गई. समिति सदस्यों ने कैनाट गार्डन, पुंडलीकनगर, टीवी  सेंटर, निराला बाजार और उस्मानपुरा में यातायात की समस्या निर्माण होती है.  

फेरीवालों के कारण यातायात की समस्या 

फेरीवालों की संख्या अधिक होने से यहां यातायात की समस्या निर्माण होती है. इन इलाकों में यातायात नियंत्रण करने पर नागरिकों को बड़े पैमाने पर राहत मिलेगी. यह मत व्यक्ति किया गया. अतिक्रमण के चलते यातायात में बड़े पैमाने पर समस्याएं निर्माण हो रही है. अतिक्रमणों का जायजा लेने मनपा की ओर से एक दल भी नियुक्त करने का निर्णय बैठक में लिया गया. पथ विक्रेताओं का नियोजन कर जगह दी जाएगी. पहले ‘नो हॉकर्स जोन’ घोषित करने पर जोर दिया गया. उसके बाद नियोजन जमीन पर विक्रेताओं को खडे़ रहने की इजाजत दी जाएगी.जनवरी में 5 सड़कों पर पार्किंग, पथ विक्रेता नीति की पर अमलीजामा पहनाने का निर्णय लिया गया. बैठक में नगर रचना विभाग के उपअभियंता संजय कोंबडे, संपत्ति कर विभाग के शेख मोईन, श्रीनिवास देशमुख, पल्लवी देवरे, मधुरा कुलकर्णी, आर्किटेक्ट करण ठाकुर, सारंग टाकलकर उपस्थित थे.