The participation of citizens is important in the Amrit Mahotsav campaign of independence: Aastik Kumar Pandey

    औरंगाबाद. भारत सरकार और महाराष्ट्र सरकार की ओर से आयोजित आजादी के अमृत महोत्सव का वर्ष आरंभ हो चुका है। औरंगाबाद महानगरपालिका और स्मार्ट सिटी अपना योगदान दे रहा है। अमृत महोत्सव के उपलक्ष्य में  साल भर  कार्यक्रम जारी रहेगा। इसके लिए नागरिकों का सहभाग जरुरी है। यह प्रतिपादन महानगरपालिका प्रशासक आस्तिक कुमार पांडेय ने गुरुवार को किया।

    जनसहभाग से आजादी का अमृत महोत्सव मनाने के लिए साल भर विविध कार्यक्रम आयोजित करने के नियोजन के लिए  महानगरपालिका प्रशासक पांडेय के अध्यक्षता में विविध सामाजिक संगठनाओं के पदाधिकारी और  महानगरपालिका अधिकारियों की बैठक मौलाना आजाद रिसर्च सेंटर में संपन्न हुई। बैठक में अधिकारियों को मार्गदर्शन करते हुए पांडेय ने यह बात कहीं। उन्होंने बताया कि  औरंगाबाद महानगरपालिका की ओर से नागरिकों के लिए महत्वपूर्ण कचरा व्यवस्थापन, बेहतर सड़के, पेयजल आपूर्ति, रिक्त पदों की  भरती, सूचना और तकनीकी प्रौद्योगिक इन विषयों पर  विविध प्रकल्पों पर अमलीजामा पहनाया जा रहा है। इसमें कचरा व्यवस्थापन को लेकर कुछ सालों पूर्व  गंभीर रुप से कचरा प्रशन निर्माण हुआ था। अब वह पूरी तरह से हल हो चुका है।

    प्रतिदिन 200 से 300 कचरा गाड़ियों के माध्यम से शहर में घर-घर जाकर कचरा संकलन कर उसका वर्गीकरण और प्रक्रिया पडेगांव, चिकलथाना और कांचनवाडी प्रक्रिया केंद्र पर जारी  है। शहर के विविध स्थानों पर सडकों का काम पूरा हुआ है। आनेवाले कुछ माह में सड़कों के बचे काम भी पूरे किए जाएंगे। वर्तमान में शहर में बाहर से आनेवाले नागरिकों से सड़कों की हालत के बारे में  पूछने पर वे समाधान व्यक्त करते है।

    1680 करोड़ की पेयजल योजना का काम आरंभ 

    महानगरपालिका कमिश्नर आस्तिक कुमार पांडेय ने बताया कि राज्य सरकार ने मंजूर किए 1680 करोड़ की पेयजल योजना काम शुरु हो चुका है। आगामी कुछ सालों में योजना का काम पूरा होकर शहर की पेयजल समस्या भी पूरी तरह से हल होगी। यह विश्वास आस्तिक कुमार पांडेय ने जताते हुए सरकार की ओर से महानगरपालिका आकृतिबंध मंजूर होने की जानकारी देते हुए बताया कि जल्द ही नौकर भरती की प्रक्रिया अपनायी जाएगी। महानगरपालिका औरत स्मार्ट सिटी की ओर से ई गर्वन्नस प्रकल्प पर काम शुरु किया गया है। यह प्रकल्प भी जल्द पूरा होगा। महानगरपालिका 21 वीं सदी ओर बढ़ते समय यह प्रकल्प शहर के विकास को चार चांद लगाएंगे 

    आगामी 15 अगस्त तक सभी प्रकल्प होंगे पूरे 

    प्रशासक आस्तिक कुमार पांडेय ने कहा, हम सब अगले वर्ष 75 वां आजादी का दिन आने वाले 15 अगस्त को मनाएंगे, तब शहर में महानगरपालिका और स्मार्ट सिटी के माध्यम से जारी सभी प्रकल्प पूरे होकर शहर के विकास के लिए जरुरी कई प्रशनों से राहत मिलेंगी। आजादी का अमृत महोत्सव मनाते समय जनसहभाग की सख्त जरुरत है। शहर के हर नागरिक ने आगे आकर इन उपक्रमों के लिए अपना योगदान देने की अपील प्रशासक पांडेय ने की। उन्होंने कहा कि सड़क पर हर व्यक्ति ने अपनी गाड़ी बेहतर रुप से सड़क के किनारे खड़ी की तो समझो उसने आजादी के अमृत महोत्सव में अपना योगदान दिया। अंत में पांडेय ने बताया कि 2 अक्टूबर की सुबह 7 बजकर 50 मिनट पर अपने अपने स्थान पर खड़े रहकर राष्ट्रगान करना है।

    बैठक में शहर के विविध सेवा भारी संस्था के प्रतिनिधि, स्कूल कॉलेज के प्रतिनिधि, होटल  एसोसिएशन के प्रतिनिधि, एनसीसी, एसआरपीएफ के प्रतिनिधियों ने भी हिस्सा लिया। बैठक में महानगरपालिका उपायुक्त संतोष टेंगले, सौरभ जोशी, सौरभ जोशी, मुख्य लेखा परीक्षक देका हिवाले, मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ. पारस मंडलेचा, सांस्कृतिक कार्यक्रम अधिकारी संजीव सोनार, पीआरओ तौसिफ अहमद, स्मार्ट सिटी के सहायक प्रकल्प अधिकारी आदित्य तिवारी आदि उपस्थित थे।