औरंगाबाद में चलाई जाएगी हर घर तिरंगा मुहिम

    औरंगाबाद : आजादी के 75 साल पूरे होने के उपलक्ष्य में शहर में राष्ट्रव्यापी ‘हर घर तिरंगा’ (Tricolor at Every Home) मुहिम चलाई जाएगी। यह अभियान शहर के सभी नागरिकों के लिए है। यह अभियान आगामी स्वतंत्रता दिवस (Independence Day) पर चलाई जाएगी। 

    अभियान पूरे देश में चलाया जाएगा

    आजादी का अमृत महोत्सव के तहत केंद्र सरकार 11 से 17 अगस्त तक ‘हर घर तिरंगा’ अभियान चलाएगी। यह अभियान पूरे देश में चलाया जाएगा। इसके लिए केंद्र सरकार ने स्थानीय प्रशासन को ऐसे निर्देश दिए हैं। इस निर्देश के तहत सभी स्थानीय प्रशासन, संगठन, गैर सरकारी संगठन, संघ, यूनियनों ने शहर में इस अभियान को लागू करने का काम हाथ में लिया है। अभियान का उद्देश्य स्वतंत्रता दिवस (15 अगस्त) के अवसर पर 11 अगस्त से 17 अगस्त 2022 तक शहर के नागरिकों के घरों पर तिरंगा फहराना है। केंद्र सरकार ने इसके लिए कुछ नियम बनाए हैं। महानगरपालिका कमिश्नर और स्मार्ट सिटी के सीईओ आस्तिक कुमार पांडेय ने नागरिकों से इन सभी नियमों का सम्मान करने और स्वतंत्रता दिवस को सम्मान के साथ मनाने की अपील की है। आज तक, राष्ट्रीय ध्वज एक सीमित अवधारणा है। इसके लिए कुछ नियम और कानून हैं। इस अभियान का उद्देश्य लोगों में अपनेपन की भावना, देश के प्रति सम्मान, एकता की भावना, देशभक्ति और भारत की आजादी के 75 साल पूरे होने का जश्न मनाना है। प्रशासन शहर के सभी नागरिकों से इस अभियान में भाग लेकर देश और  तिरंगे का गौरव बढ़ाने की अपील कर रहा है। 

    साढ़े चार लाख झेंडे उपलब्ध होंगे

    मुहिम को सफल करने हेतु स्मार्ट सिटी मुख्यालय में बैठक हुई। बैठक में अभियान की रूपरेखा तैयार की गई। नागरिकों को सार्वजनिक स्थानों पर झंडे उपलब्ध कराए जाएंगे। विभिन्न गैर सरकारी संगठनों, संगठनों, महिला स्वयं सहायता समूहों के माध्यम से झंडे उपलब्ध कराए जाएंगे। नागरिकों को घर के सामने झंडे लगाने चाहिए। इसके लिए सभी नियमों से नागरिकों को अवगत कराया जाएगा। इस अवसर पर उपस्थित विभिन्न अधिकारियों और सदस्यों ने ध्वजारोहण की घोषणा की। कमिश्नर ने स्वयं 2,000 झंडों के प्रावधान की घोषणा की। करीब साढ़े चार लाख तिरंगे झेंडे उपलब्ध होंगे। 

    बैठक में महानगरपालिका कमिश्नर और स्मार्ट सिटी के सीईओ आस्तिक कुमार पांडेय, अपर आयुक्त बी. बी. नेमाने, रवींद्र निकम, उपायुक्त सोमनाथ जाधव, अपर्णा थेटे, नंदा गायकवाड़, संतोष टेंगळे, शहर अभियंता सखाराम पानझडे, सांस्कृतिक अधिकारी संजीव सोनार, मसिआचे मनीष अग्रवाल, औरंगाबाद फर्स्ट  के हेमंत लांडगे, डॉ. किशोर पाठक, व्यापारी महासंघ के जगन्नाथ काले , स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. पारस मंडलेचा, सभी वार्ड अधिकारी और इंजीनियर, स्मार्ट सिटी टीम उपस्थित थे।