सदस्यों के हितों की रक्षा के लिए प्रतिबद्ध-संजीव बावनकर

    • जिला प्राथमिक शिक्षक सहकारी पतसंस्था की वार्षिक आम बैठक

    भंडारा. संस्था के सदस्यों के पारदर्शी एवं सभासद हित कार्य के कारण, पूरे महाराष्ट्र में संगठन का नाम बढ़ रहा है. निदेशक मंडल सदस्यों के हितों की रक्षा के लिए प्रतिबद्ध है ऐसा प्रतिपादन संस्थाध्यक्ष संजीव बावनकर ने किया. 

    भंडारा जिला प्राथमिक शिक्षक सहकारी पतसंस्था की वार्षिक आम बैठक आनलाइन संपन्न हुई. इस दौरान वह अध्यक्षता करते हुए बोल रहे थे. इस अवसर पर संस्था के उपाध्यक्ष रमेश काटेखाये, शाखाध्यक्ष अनिल गयगये, राकेश चिचामे, भैय्यालाल देशमुख, शंकर नखाते, राजन सव्वालाखे, रमेश सिंगनजुडे, शिलकुमार वैद्य, प्रकाश चाचेरे, विकास गायधने, यामिनी गिरेपुंजे, विजया कोरे, योगेश कुटे, प्रधान व्यवस्थापक धर्मेंद्र मेहर, प्रबंधक योगेश भोयर, लेखापाल नरेंद्र गजभिये, सहायक लेखापाल हेमंत राऊत एवं सभी शाखा के प्रबंधक एवं सभी कर्मचारी उपस्थित थे. 

    प्रास्ताविकता से अध्यक्ष संजीव बावनकर ने बताया कि समिति के सदस्यों को नियमित रूप से 15 लाख रुपये, जमा ऋण 3 लाख रुपये, आकस्मिक ऋण 60 हजार रुपये एवं शैक्षणिक ऋण 3 लाख रुपये तक दिया जा रहा है. सदर ऋण पर साढ़े आठ प्रतिशत ब्याज लगता है. और कल्याण कोष से मृतक सदस्यों के परिजनों को अंतिम संस्कार के लिए तत्काल 20,000 रुपये की सहायता दी जाती है.

    सेवानिवृत्त सदस्यों को उनकी जमा राशि का दोगुना प्रतिपूर्ति की जाती है. सेवानिवृत सभासद एवं सभासदों के मेधावी बच्चों को सम्मानित एवं सभासदों की लड़कियों की शादी के दौरान 4 हजार रुपये उपहार के तौर पर दिए जाते हैं. संचालन व आभार शाखाध्यक्ष अनिल गयगये ने माना.