निर्माण कार्य की अनदेखी, बढ़ रही सड़क दुर्घटनाएं

    • आंधगाव –धुसाला व कान्द्री- काटी सडक की दुरुस्ती करने की मांग

    मोहाडी. तहसील के आंधलगाव से धुसाला व कांद्री से काटी रोड के लिए बार-बार शिकायत और आंदोलन के बावजूद साफ दिख रहा है कि प्रशासन और जनप्रतिनिधि पूरी तरह नींद में हैं. चूंकि यह सड़क की मरम्मत के लिए 1 नवंबर, 2021 कोरामटेक-तुमसर राष्ट्रीय राजमार्ग पर कांद्री में सड़क मरम्मत की मांग को लेकर आंदोलन किया गया.

    हालांकि निर्माण व पुलिस विभाग की ओर से प्रदर्शनकारियों को आश्वासन दिया गया कि आंदोलन का संज्ञान लेते ही तुरंत काम शुरू कर दिया जाएगा.  हालांकि साल भर सड़क पर विभिन्न जगहों पर गिट्टी और फुंसी फेंकने का काम ठप रहा. स्थानीय लोगों का आरोप है कि संबंधित अधिकारी कुंभकर्णी नींद में है. 

    सड़क पथरीली हो गई है, सड़क पर की गिट्टी निकली है और राहगीरों को काफी परेशानी का सामना करना पड़ रहा है. परिणामस्वरूप धुसाला से आंधलगांव जाते समय दोपहिया वाहन से यात्रा करते समय गुरुवार दोपहर 1 बजे के दौरान दोपहिया वाहन फिसल कर एक व्यक्ति जख्मी हो गया.  

    यदि किसी की दुर्घटना में मृत्यु हो जाती है तो क्या प्रशासन इसकी जिम्मेदारी लेगा?  स्थानीय लोगों ने सरकार, प्रशासन और जनप्रतिनिधियों पर सोए रहने का पुरजोर आरोप लगाया है.

    कांद्री से फुटाला एवं आंधलगांव से धुसाला यह सड़क भीड़भाड़ वाली है. लेकिन प्रशासन द्वारा अक्सर इसकी अनदेखी की जाती है. इस सड़क पर गिरने वाले दोपहिया वाहनों की संख्या में इजाफा हुआ है. इस सड़क से कई लोग प्रभावित हुए हैं. क्या हमारी मौत के बाद सड़क की मरम्मत की जाएगी क्योंकि ग्रामीण बार-बार प्रशासन को मरम्मत करने के लिए फटकार लगा रहे हैं?  ऐसा आक्रोशित सवाल क्षेत्र के नागरिकों ने पूछा है.

    इस सड़क का आधा निर्माण किया गया यदि 5 जून तक पूरा नहीं किया गया तो  तुमसर से रामटेक राष्ट्रीय राजमार्ग पर पूर्व विधायक चरण वाघमारे के नेतृत्व में व्यापक आंदोलन कार्यकर्ता द्वारा किया जाएगा. 

    रोशन पुडके, मंगेश सेलोकर, जितेंद्र पुडके, देवानंद पुडके, धनराज वणवे, धोंडू खंडाते, हिरालाल पुडके, संजय सेलोकर, अमित निशाणे, प्रमोद पुडके, राजू पुंडे-नवेगाव, उत्तम खंडाते, मनोज पुंडे,  सरपंच रामकृष्ण पुंडे, सरपंच रवींद्र बाभरे, हिरालाल रोटके, राजु पुडके, रमेश शेंडे, रत्नराज रंगारी, हेमराज वणवे, नंदन द्रुगकर, मधुकर अजबले, जोशीराम सरोदे, भगवान हलमारे, लंकेश ढबाले, लोकचंद ढेंगे, मोडकु चिचुलकर, उमेश पुडके, नवनीत वणवे, शाम कोसरे, गजानन पुडके, जोतिष पुडके, उमेश भोयर, संदिप बंड, उपास बावणे, झीबल मारबते, नितेश पाणबुडे द्वारा चेतावनी दी गई है.