ओमिक्रोन को आउट करेगा “मिशन लेफ्ट आउट”, जिलाधिकारी ने अपने कंधे पर ली जिम्मेदारी

    • जिले में टीकाकरण कार्य में प्रशंसनीय तेजी

    भंडारा. कोविड की तीसरी लहर के तौर पर ओमाइक्रोन वायरस के खतरे को देखा जा रहा है. पश्चिम देशों में नए वायरस के पेशेंट संख्या बढ़ती जा रही है. भारत में सर्वाधिक पेशंट महाराष्ट्र से है. इस वास्तविकता के बीच भंडारा जिले को ओमिक्रोन से सुरक्षित रखने के तौर संपूर्ण टीकाकरण यही कारगर हथियार साबित हो सकता है.

    ओमिक्रोन को जिले की घुसपैठ की संभावना को खत्म करने के उद्देश्य से जिलाधिकारी संदीप कदम ने “मिशन लेफ्ट आउट” अभियान का आगाज किया एवं इस मिशन को सफल बनाने के लिए स्वयं को पूरी तरह से झौंक दिया है. कार्यालयीन अवकाश के बावजूद वे पूरे दिन टीकाकरण कार्य का जायजा एवं इस राष्ट्रीय कार्य के लिए अपना समय दे रहे लोगों से मिलकर उन्हे प्रोत्साहित कर रहे है. शनिवार को जिलाधिकारी कदम एवं जिला शल्य चिकित्सक फारूकी ने पूरे जिले का चक्कर लगाया एवं टीकाकरण कार्य को पूरा करने के लिए टीम को प्रोत्साहित किया.

    उल्लेखनीय है कि जिले में “मिशन लेफ्ट आउट” के तहत 24 दिसंबर से 31 दिसंबर, 2021 तक 18 साल से ऊपर के नागरिकों के लिए कोविड टीकाकरण पूरा करने के लिए एक विशेष कोविड टीकाकरण अभियान शुरू किया गया है.

    एक ही दिन में 15401 को लगा टीका

    अभियान के पहले ही दिन में जिले में कुल 15401 कोविड का टीका लगाया गया है, इसमें पहली खुराक 2124 को एवं दूसरी खुराक 13277 को दी गयी है.  जिला स्वास्थ्य विभाग एवं जिला प्रशासन द्वारा जिले के नागरिकों से कोविड टीके की दोनों खुराक पूरी करने के आह्वान को लोगों का अच्छा प्रतिसाद मिल रहा है.

    नाकाडोंगरी एवं चुल्हाड को मिली शाबाशी

    24 दिसंबर को हुए टीकाकरण काम में सर्वाधिक प्रशंसा नाकाडोंगरी और चुल्हाड़ गांव ने बटोरी. स्वास्थ विभाग के अनुसार इन दोनों गावों ने  जिले में सबसे अधिक काम किया. इस शानदार काम के लिए सबंधित ग्राम पंचायत सरपंच और पदाधिकारियों को बधाई दी गयी. शेष गांवों में संबंधित तलाठियों, ग्राम सेवकों, मंडल अधिकारियों, आशा एवं आंगनवाडी सेविकाओं के सहयोग से कोविड टीकाकरण का पहला एवं दूसरा डोज लेने वाले लाभार्थियों को प्रोत्साहित किया जा रहा है.

    निजी नंबर पर

    मिशन लेफ्ट आउट के तहत पहली एवं दूसरी खुराक शेष वाले लाभार्थियों की सूची संबंधित ग्राम पंचायत को उपलब्ध कराई गई है. इस सूची के आधार पर लाभार्थियों से उनके निजी मोबाइल के माध्यम से संपर्क कर टीकाकरण कराने का अनुरोध किया जा रहा है. 

    जिलाधिकारी एवं सीएस एक्शन मोड में

    जिलाधिकारी संदीप कदम एवं जिला शल्य चिकित्सक शनिवार को पूरी तरह से एक्शन मोड में दिखाई दिए. उन्होंने स्वयं पूरे जिले में चल रहे टीकाकरण का जायजा लिया एवं टीकाकरण कार्य में जुटी टीम का हौसला बढ़ाया. जिलाधिकारी कदम एवं सीएस फारूखी ने शनिवार को नगर पंचायत लाखनी, ग्राम मुरमाडी (सा), पिंपलगांव, पोहरा, शिवनी, लाखनी तहसील में पालांदुर में भेट दी. इस भेंट में उन्होने सरपंच, स्थानीय जनप्रतिनिधि, ग्राम सेवक, तलाठी, आशा, आंगनवाड़ी सेविका, उमेद महिला बचत समूह एवं शिक्षकों से बात की एवं शेष टीकाकरण पूर्ण करने के लिए प्रोत्साहित किया.