Skyrocketing Edible oil prices

    भंडारा. दीपावली पर्व के मौके पर विभिन्न तेल के भाव में भारी तेजी दर्ज की गई थी, लेकिन अब धीरे-धीरे तेल के प्रति किलो भाव में भी गिरावट देखी जा रही है. दीपावली में सोयाबीन तेल का भाव 160 रूपए प्रति किलो बोला गया था जो घटकर अब 130 रूपए प्रति किलो हो गया है.

    इसी तरह दीपावली के मौके पर फिल्ली का तेल 190 रुपए प्रति किलो बोला गया, जो अब 10 रुपए घटकर 180 प्रति किलो के भाव से बिक रहा है. करडी के तेल का भाव दीपावली से लेकर अभी तक 220 रुपए प्रति किलो पर ही टीका हुआ है.

    सूर्यफूल दीपावली के मौके पर 180 रुपए प्रति किलो के भाव से बिका था, लेकिन इन दिनों इसका प्रतिकिलो भाव 160 रुपए तक उतरा है. तिल के तेल का भाव दीपावली में 280 रुपए प्रति किलो था, जो अब कम होकर 160 रुपए पर आ गया है. पाम तेल 170 रुपए प्रति किलो दीपावली के समय बोला गया था, जो वर्तमान में घटकर 140 रूपए प्रतिकिलो बोला गया. 

    हालांकि भंडारा जिले में सभी तरह के तेल की ग्राहकी है, लेकिन सबसे ज्यादा मांग सोयाबीन की रहती है. सोयाबीन के बाद जिस तेल की सबसे ज्यादा मांग रहती है, वह है फिल्ली का तेल. तीन दशक पूर्व भंडारा जिले में सबसे ज्यादा मांग जवस के तेल की थी, लेकिन धीरे- धीरे जवस के तेल की मांग घट गई और उसके स्थान पर सोयाबीन के तेल की मांग बढ़ गई. 

    बाजार सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार आने वाले दिनों में सभी तेलों के भाव में भारी गिरावट आएगी. बताया जा रहा है कि आने वाले दिनों में तेलों के प्रति किलो भाव में 10 से 15 रूपए की कमी आने के आसार हैं.