Sanugraha Anudaan Yojna

भंडारा. छात्रों को दुर्घटना बीमा संरक्षण देनेवाले राजीव गांधी विद्यार्थी दुर्घटना सानुग्रह अनुदान योजना में 2 वर्ष में 36 छात्रों के परिवारों को अनुदान प्राप्त हुआ है. वही 37 प्रस्ताव अनुदान की प्रतीक्षा में है. राज्य सरकार की ओर से कक्षा पहली से बारहवी तक पढ़ने वाले छात्रों के लिए दुर्घटना बीमा योजना है. राजीव गांधी विद्यार्थी दुर्घटना सानुग्रह अनुदान योजना 2012-13 से लागू है.

योजना में छात्रों की दुर्घटना में मृत्यु, दुर्घटना के कारण कायम दिव्यांग होने पर सानुग्रह अनुदान दिया जाता है. पिछले 2 वर्षों में सिर्फ 36 छात्रों के परिवारों को 26 लाख 55 हजार रुपये अनुदान दिया गया. वर्ष 2019 को एक छात्र कायम दिव्यांग होने के कारण उसे 30 हजार रुपये अनुदान दिया गया. 13 नवंबर 2019 से 36 मामलों में 19 लाख 62 हजार 500 रुपये अनुदान मंजूर होने के बावजूद भी अनुदान अप्राप्त है. 2020-21 के 7 प्रस्ताव 5 लाख 22 हजार रुपये के मंजूरी के लिए प्रतीक्षा में है. दुर्घटना बीमा योजना छात्रों को सुरक्षा प्रदान करनेवाली है. जिले के सभी छात्र इसमें शामिल किए जाएंगे. इसका लाभ कई लोगों को हो रहा है.

BDS प्रणाली का परिणाम

राजीव गांधी विद्यार्थी दुर्घटना सानुग्रह अनुदान योजना के लम्बित मामलों को बीडीएस प्रणाली ने प्रभावित किया है. मार्च में अर्थ संकल्पीय वितरण प्रणाली जनरेट नहीं हुई थी. सरकार ने वितरण प्रणाली ब्लाक करके रखा था. इस कारण सानुग्रह निधि छात्रों को प्राप्त नहीं हो सका. अनुदान योजना का प्रस्ताव पुणे के शिक्षा संचालनालय के प्राथमिक शिक्षा संचालकों की ओर भेजा गया.