कंगना राणावत पर देशद्रोह का मामला दर्ज किया जाए;जिजाऊ ब्रिगेड ने की अपराध दर्ज करने की मांग

    मोहाडी. अभिनेत्री कंगना राणावत ने राष्ट्रपिता महात्मा गांधी के बारे में जो कुछ वक्तत्व दिया है, उसका हम सभी विरोध करते हैं. कंगना ने जो वक्तव्य दिया है, 1947 में देश को भीख मांगकर स्वतंत्रता मिली था, सच्ची  स्वातंत्रता तो 2014 में मिली, ऐसा निंदनीय वक्तव्य देकर पूरे देश के साथ-साथ स्वातंत्रता संग्राम के सैनिकों का अपमान किया है, ऐसे में कंगना राणावत को दिया गया पद्मश्री पुरस्कार वापस लिया जाए.

    कला क्षेत्र में दिए गए उल्लेखनीय योगदान दिए जाने के लिए  8 नबवंर, 2021 कंगना राणावत को पद्मश्री पुरस्कार देने की घोणा की गई. कला क्षेत्र को छोड़कर सिने अभिनेत्री कंगना राणावत अन्य प्रत्येक क्षेत्र में नहीं आनी चाहिए, वे जहां भी जरूरी नहीं वहां भी कूद जाती है और कुछ ऐसा बयान देती हैं कि वह सभी की नगवार गुजरता है.   

    पद्मश्री पुरस्कार मिलने के बाद कंगना राणावत के पांव जमिनी पर न होकर वे हवा में उड़ रही हैं, उन्होंने मिडिया के सामने भारत का अपमान किया है. कंगना राणावत के वक्त के कारण देश  को आजादी दिलाने के लिए  भगतसिंह,चंद्रशेखर आजाद,सुभाषचंद्र बोस,राजगुरू,सुखदेव के अनुसार बाल शिरीष कुमार ने अपने प्राणों की आहुति  दी.

    सैनिकों तथा शहीदों का घोर अपमान करने वाली कंगना राणावत के उक्त  वक्तव्य की जितनी निंदा की जाए, वह कम ही होगी. कंगना के उक्त वक्तव्य के कारण पूरे देश में गुस्सा फैला हुआ है.   इसलिए कंगना राणावत द्वारा किए गए वक्तव्य पर गंभीरता से विचार करके  उनको दिया गया पद्मश्री पुरस्कार पुरस्कार वापस लिया जाए और कंगना राणावत के खिलाफ देशद्रोह का मामला दर्ज किया जाएं.   

    जिजाऊ ब्रिगेड प्रदेशाध्यक्ष माधुरी भदाणे को नेतृत्व में राज्य भर में ऐसी मांग जिजाऊ ब्रिगेड की महिला ने की है. वर्तमान में देश में सभी राजनीतिक दलों में टोलीयुद्ध जारी है. देश में अनेक समस्याएं प्रलंबित होने के साथ-साथ मूल मुद्दे की ओर से नागरिकों का ध्यान  हटाने के लिए विभिन्न राजकीय दलों के सदस्य एक-दूसरे के खिलाफ बोल रहे हैं.  राष्ट्रपति के हाथों कंगना राणावत को दिये गये देश के सम्मानित पुरस्कार कंगना वापस करें तथा कंगना के खिलाफ देशद्रोह का अपराध दर्ज किया जाए.

    कंगना राणावत से पद्मश्री पुरस्कार वापस नहीं लिया गया, कंगना के खिलाफ अपराध दर्ज न किए जाने पर संभाजी ब्रिगेड तथा जिजाऊ ब्रिगेड राज्य में आंदोलन किए जाने की चेतावनी दी. इस मौके पर सांभा जी ब्रिगेड के जिला अध्यक्ष यशवंत भोयर तथा जिजाऊ ब्रिगेड के जिल्हाअध्यक्ष शिल्पा खंडाईत, गिरीश कुंभरे, मनोज इलपाते, शुभम् सिडाम, कमल साठवणे,गणेश नंदांवार,अश्विनी शिंदे, आस्वले, रमा हुमने, पोलिस अधीक्षक समेत अन्य लोग उपस्थित थे.