तत्काल शुरू करें होटेल : भाजपा व्यापारी आघाडी

    • 4 बजे तक नहीं होता व्यापार
    • नहीं निकल पा रहा है खर्च 
    • नहीं तो परेशानी व्यापारी सौंपेंगे चाबी

    भंडारा. कोरोना की वजह से पूरा व्यापार जगत प्रभावित हुआ है. कईयों को कर्ज की वजह अपना व्यवसाय बंद करना पडा है. अब जब कोरानामुक्ति के पश्चात जनजीवन पटरी पर लौट रहा है. सभी व्यवसाय शुरू हो चुके है, लेकिन होटेल एवं बार व्यवसायिकों को अब भी परेशानी का सामना करना पड रहा है. इनकी परेशानी को समजते हुए प्रशासन द्वारा तत्काल हल निकालने की मांग भाजपा व्यापारी आघाडी जिला इकाई ने की है. इस सबंध में जिला प्रशासन को निवेदन सौँपा गया.

    जिला प्रशासन को सौंपे गए निवेदेन में कहा गया है कि पिछले हफ्ते में राज्य सरकार ने होटेल एवं बार को छोड कर शेष सभी को रात्रि 8 बजे व्यापार के लिए इजाजत दी है. 

    यह अन्याय क्यों?

    होटेल व्यवसायिकों को असली कामकाज का समय शाम में रहता है. परिसर रात्रिभोज की योजना बनाते है. लेकिन वर्तमान में प्रशासन की पाबंदी की वजह से होटेल व्यवसायिकों पर खाली हाथ बैठने की बारी आयी है. समय को सीमित किए जाने से होटेल व्यवसायिकों को बिजली बिल, किराया, कामगारों एवं कुक का वेतन को जुगाड करना बेहद मुश्किल हो चुका है.

    जिन्होने ने बैंक एवं पतसंस्थाओं से कर्ज लिया है, उनके लिए किश्त नहीं निकल पा रही है. जिससे व्यवसायी आर्थिक संकट में फंसे हुए है.

    भंडारा जिले में संभव 

    व्यापारी आघाडी जिलाध्यक्ष मयूर बिसेन ने कहा कि जिलाधिकारी संदीप कदम के नेतृत्व में जिला प्रशासन की टीम ने शानदार काम किया एवं भंडारा कोरोनामुक्त हुआ है. इस वजह से भंडारा जिले में होटेल एवं बार व्यवसायिकों को व्यापार की इजाजत देना संभव हो सकता है. प्रशासन को इसके लिए संवेदनशीलता के साथ विचार करना चाहिए.

    प्रशासन को चाबी सौँपने की मानसिकता

    होटेल एवं बार व्यवसायिकों के अनुसार वर्तमान समय 4 बजे तक है. जिससे व्यापार लगभग बंद ही है. क्योंकि शाम के बाद में व्यापार होता है.  आर्थिक मंदी से जुझ रहे होटेल एवं बार व्यवसायिकों की समाधान नहीं निकलने की सुरत में व्यवसाय बंद कर प्रशासन को चाबी सौंपने का मन बना लिया है.

    प्रशासन दखल दें

    निवेदन में जिला प्रशासन से अपील की गयी है कि प्रशासन को इस मामले  दखल देकर पहल करनी चाहिए. ताकि व्यवसायिको के आर्थिक परेशानी का हल निकल सके एवं इन उद्योग में कार्यरत कम्रचारी एवं कामगारों का रोजगार बना रहे. इसके लिए होटल एवं बार व्यवसाय का समय रात्रि 10 बजे तक करने की मांग की गयी है. 

    निवेदन देने गए शिष्टमंडल में भाजपा व्यापारी आघाडी जिला उपाध्यक्ष महेश सपाटे, नारायण गोपागोनिवार, संजु कंबोज, प्रवीण गभने, बापू धुमनखेडे, विवेकसिंग बाच्छील, पराग मानापुरे, रुपेश दलाल, यश डावरा एवं अन्य उपस्थित थे.