File Photo
File Photo

    मोहाडी. रोजगार गारंटी योजना के तहत नाला गहराईकरण काम पर के मजदूरों पर झाडीयों में छुपकर बैठे होनेवाले जंगली सुअर ने हमना करने की घटना मोहाडी तहसील के हिवरा गाव समीप रविवार को सुबह 10 बजे के दौरान घटीत हुई होकर 3 मजदूर जख्मी हुए है. 

    ग्रीष्मकाल में मजदूरों के हाथ को काम मिले इस उद्देश से राज्य में महाराष्ट्र ग्रामीण रोजगार गारंटी योजना के माध्यम से ग्रामीण परिसर में विकास की कामे किए जाते है. तहसील के हिवरा/वासेरा ग्रामपंचायत अंतर्गत घनश्याम वाढई से पांजरा शिव तक नाला गहराईकरण काम शुरू है. इस काम पर 190 मजदूर काम पर कार्यरत है. 

    रविवार को सुबह 10 बजे के दौरान नहर में उगे उंचे व घने घास के झाडीयों में छुपकर बैठे एक जंगली सुअर ने अचानक मजदूरों पर हमला किया. मजदूरों की संख्या अधिक होने से उसको भगाया गया. 

    किंतु तबतक मोहाडी तहसील के तीनों हिवरा निवासी श्रीराम अडमाचे (55), सुनंदा राजू गायधने (28) व सुमन अशोक झंझाड (56) यह तीन मजदूर जख्मी हुए. उनको शीघ्र यहां की सरपंच शारदा अतकरी ने मोहाडी ग्रामीण अस्पताल में भर्ती किया. इसमें से सुनंदा गायधने की पैर को गंभीर चोट आयी होकर उनको जिला सामान्य अस्पताल भंडारा में भेज गया है. 

    डा. लोकेश बांडेबूचे व परिचारिका वैशाली पाटील यह उनपर उपचार कर रहे होकर उनके कमर व पैर को अंदरूनी चोट लगने का अंदाजा व्यक्त किया है. एक्सरे निकालने पर ही सही क्या है यह समजेगा ऐसा डाक्टरों ने बताया. रोगायो तांत्रिक सहाय्यक फत्तेचंद निनावे, रोजगार सेवक सुरेश रामटेके यह मरीजों की सेवा में लगे हुए है.