Unseasonal rains cause heavy damage to crops in rainy Nashik district

    चिखली. पिछले 24 घंटों से बुलढाना जिले में मूसलाधार बारिश हो रही है. जिससे खेतों में पानी भर जाने से तथा अत्यधिक बारिश से किसानों को लाखों रुपये का नुकसान होने का अनुमान लगाया जा रहा है. सोमवार की रात से ही मूसलाधार बारिश ने जनजीवन अस्त-व्यस्त कर दिया है. क्षेत्र के छोटे-बड़े नदी, नालों में बाढ़ आ गयी है.

    इसी तरह केलवद रास्ते के साथ साथ चिखली-बुलढाना मार्ग को सोमवार की रात 11 बजे से यातायात के लिए बंद कर दिया गया है, जबकि चिखली खामगांव मार्ग को भी सुबह 6 बजे से बंद कर दिया गया है. जिसके कारण यह मार्ग पूरी तरह से बंद देखे गए हैं. सड़कों पर वाहनों की कतारे देखी गयी है.

    पेठ के पुल पर पानी का अंदाज न आने से एक ट्रक ड्राइवर ने ट्रक निकालने का प्रयास किया था लेकिन ट्रक बह जाने के चलते ड्यूटी पर तैनात पुलिस कर्मचारियों ने स्थानीय ग्रामीणों की मदद से ट्रक चालक की जान बचाई. उन्हें रस्सी की मदद से ट्रक से पुल के उपर से बाहर निकाला गया. सोमवार की रात से हो रही मूसलाधार बारिश ने राजमार्ग पर यातायात को बाधित कर दिया था, जबकि सड़कों पर भारी जल जमाव ने गाड़ी चलाना मुश्किल कर दिया था.

    पेनटाकली बांध शत प्रतिशत भरा

    चिखली शहर व तहसील में सोमवार की रात से मुसलाधार बारिश शुरू होने से पेनटाकली बांध लबालब भर चुके है. साथ ही बुलढाना का येलगांव बांध भी लबालब भरने के कारण इसका पानी साखली नदी से पेठ मार्ग पेनटाकली को जाता है. इस कारण पेनटाकली बांध भी ओवरफ्लो हो चुका है. 10 में से 5 दरवाजे से 125 क्यूबिक मीटर पानी छोड़ा जा रहा है.

    इस कारण क्षेत्र के आस पास के किसानों एवं ग्रामीणों को सतर्क रहने की चेतावनी तहसीलदार द्वारा दी गई है. आने वाले 2 दिनों तक मौसम विभाग ने मुसलाधार बारिश होने का अनुमान दर्शाया है और नागरिकों को सतर्क रहने का आहवान किया है.