Representational Pic
Representational Pic

    चिखली. चिखली नगर परिषद की आम बैठक में भाजपा पार्षदों ने आक्रामक रुख अपनाया और विभिन्न उपनगरों और संभागों में प्रस्तावित नागरिक सुविधाओं तथा हर विकास कार्य का विरोध किया. तो दूसरी ओर नगराध्यक्षा प्रिया बोंद्रे एवं उनके सहयोगी गट नेता मो.आसिफ मो.शरीफ, जलापूर्ति सभापति गोपाल देवड़े, पार्षद दीपक खराब के साथ साथ कांग्रेस के सभी पार्षदों ने भाजपा के पार्षदों ने राजनीतिक द्वेश भावना से विकास कार्यों में रुकावटें डालने की भूमिका का पुरजोर विरोध किया. शहर में विभिन्न विकास कार्यों के विरोध के चलते कुछ समय के लिए नगर पालिका क्षेत्र में हड़कंप मच गया था.

    चिखली नगर परिषद द्वारा बुलाई गई आम सभा में शहर में विभिन्न विकास कार्यों और नागरिक सुविधाओं के प्रावधान से संबंधित 21 मुद्दों पर चर्चा की गई. इसमें भाजपा के तमाम पार्षदों ने विरोध का रूख अपनाया और समय-समय पर आने वाले हर प्रस्ताव का विरोध किया. इसमें नागरिकों के लिए आवश्यक विभिन्न विकास कार्यों का भी उन्होंने विरोध किया.

    इस अवसर पर भाजपा पार्षदों ने रोड़ा अटकाएं प्रस्तावों में निशुल्क जन्म और मृत्यु प्रमाण पत्र, महात्मा फुले गणेश मंडल एवं बहुउद्देशीय खेल मंडल को क्रांतिज्योति सावित्रीबाई फुले विद्यालय के सामने खुली जगह उपलब्ध करवाना, हिंदू सूर्य महाराणा प्रताप के नाम पर प्रवेश द्वार के निर्माण के लिए ओवरहेड कंडक्टर की अंडरहेड केबल बिछाना, गुरुदेव सेवा संस्था के रूप में स्वीकृत खुले स्थान का नाम बदलकर जय मल्हार करना, वार्ड नं.9 के मुस्लिम विवाह गृह को रख-रखाव के लिए रॉयल ए बहु. शिक्षा संस्था को देना, न.पा. के एक्सपायर्ड वाहनों की खरीद, श्री साई वाल्मीकि सफाई कामगार संस्था एवं मेहतर समाज विकास संस्था के कार्य का विस्तार आदि के साथ साथ अनेक विकास कार्यों के प्रस्ताव शामिल हैं,

    जिन्हें भाजपा पार्षदों ने केवल राजनीतिक विरोध के चलते अपना विरोध प्रकट किया है. जिससे कांग्रेस पार्षदों में भाजपा की इस नीति का पूरजोर निषेध प्रकट किया है. इस अवसर पर नगराध्यक्षा प्रिया बोंद्रे, मो.आसीफ मो.शरीफ, रफीकसेठ, शमीमबी राजू, दीपक खरात, सुनीता शिंगणे, हाजी अ.रऊफ अ.मजीद, गोपाल देवड़े, शालिनी थोरात, संगीता गाड़ेकर, सुनील कासारे के साथ साथ कुणाल बोंद्रे, कांग्रेस शहराध्यक्ष अतहरोद्दीन काजी, राहुल सवड़तकर, शहेजाद अली खान, विजय गाड़ेकर, गोकुल शिंगणे, दीपक थोरात आदि कार्यकर्ता उपस्थित थे. 

    विकास कार्यों में रोड़ा अटकारा दुर्भाग्यपूर्ण-दीपक खराब

    नगर पालिका के पार्षद दीपक खरात ने कहा कि यह बहुत ही दुर्भाग्यपूर्ण है कि पिछली आम सभा में बहुमत से पारित लगभग सभी मुद्दों का आज की आम सभा में भाजपा पार्षदों द्वारा विरोध किया गया और चिखलीवासियों के हितों की ओर अनदेखी करते हुए किए जा रहे विकास कार्यों का जानबूझकर राजनीतिकरण किया. उन्होंने कहा कि जनता के लिए किए जा रहे विकास कार्यों का विरोध करने के लिए लोक सेवक के रूप में चुने गए भाजपा पार्षदों के लिए यह कितना संवैधानिक है? सभी को इस बात का अहसास होना चाहिए कि लोगों ने नागरिकों की समस्याओं को हल करने के लिए आपको चुन कर दिया गया हैं.