The movement of zip and puns by-election intensified, all party leaders increased public relations

    • आज होगी मतगणना
    • जिले में 43.17 प्रश मतदान

    अकोला. जिला परिषद, पंचायत समिति उप चुनाव के लिए मतदान मंगलवार की सुबह 7.30 बजे से शाम 5.30 बजे तक मतदान हुआ. जिसमें 187 जि.प. व पं.स. के उम्मीदवारों का भाग्य ईवीएम में बंद हुआ है. बुधवार को किस उम्मीदवार का भाग्य ईवीएम से खुलेगा यह मतगणना के बाद पता चलेगा. जिले में जिप के 14 गट व पंस के 28 गणों के लिए दोपहर 3.30 बजे तक 43.17 प्रश मतदान हुआ. 

    चुनाव के लिए जिलाधिकारी नीमा अरोरा के मार्गदर्शन में प्रशासन ने मतदान की प्रक्रिया पूरी कर ली थी. जिले के 3 लाख 71 हजार 690 संभावित मतदाता में से 1 लाख 60 हजार 465 मतदाताओं ने दोपहर 3.30 बजे तक अपने मताधिकार का प्रयोग किया. जिसका प्रतिशत 43.17  रहा. आज 6 अक्टूबर को मतगणना के दिन उम्मीदवारों का भाग्य खुलेगा. इस ओर सभी का ध्यान लगा हुआ है. 

    तहसीलवार मतदान

    मतदाताओं में तेल्हारा तहसील के 64,159 मतदाताओं में से 28,115 मतदाताओं ने मतदान किया. जिसका प्रतिशत 43.82 रहा. इसी तरह अकोट तहसील के कुल 57,390 मतदाताओं में से 26,429 मतदाताओं ने मतदान किया. जिसका प्रतिशत 46.05 रहा. मुर्तिजापुर कुल 49,368 में से 21,275 ने मतदान किया, जिसका प्रतिशत 43.09 रहा. अकोला कुल 69,651 में से 29,272 ने मतदान किया, जिसका प्रतिशत 42.03 रहा. बालापुर कुल 60,488 में से 24,966 ने मतदान किया जिसका प्रतिशत 41.27 रहा.

    बार्शीटाकली कुल 36,729 में से 15,145 ने मतदान किया, जिसका प्रतिशत 41.23 रहा. इसी तरह पातुर तहसील में कुल 33,904 मतदाताओं में से 15,263 मतदाताओं ने मतदान किया जिसका प्रतिशत 45.02 रहा है. इसी तरह जिले में 3 लाख 71 हजार 690 मतदाता में से 1 लाख 60 हजार 465 मतदाताओं ने दोपहर 3.30 बजे तक मतदान किया. जिसका संपूर्ण जिले का प्रतिशत 43.17 रहा है. 

    तहसीलवार मतदान केंद्र

    चुनाव के लिए तेल्हारा तहसील 77, अकोट 81, मुर्तिजापुर 83, अकोला 85, बालापुर 74, बार्शीटाकली 49 और पातुर तहसील में 39 इस तरह जिले में कुल 488 मतदान केंद्र थे. प्रशासन की ओर से मतदान केंद्र की सुरक्षा का पूरा ध्यान रखा गया था. और कोई अप्रिय घटना न हो इस दृष्टि से भी पूरी सतर्कता बरती गयी थी. यहां पर संपूर्ण सुरक्षा के साथ मतदान हुआ. 

    पुलिस का तगड़ा बंदोबस्त

    मतदान के दौरान कोई अनुचित घटना न हो इस दृष्टि से जिला पुलिस अधीक्षक जी.श्रीधर के मार्गदर्शन में जिले के सभी थानेदारों ने सभी मतदान केंद्रों पर तगड़ा पुलिस बंदोबस्त लगाया था. समाचार लिखे जाने तक कहीं पर भी कोई अनुचित घटना नहीं हुई है.