anil deshmukh
File Pic

    मुंबई. एक बड़ी खबर के अनुसार महाराष्ट्र के पूर्व गृहमंत्री अनिल देशमुख (Anil Deshmukh) की मुश्किलें और भी बढ़ती जा रही है। जी हाँ अब विभिन्न सरकारी जांच एजेंसियों का शिकंजा लगातार उन पर कसता ही जा रहा है।

    दरअसल 100 करोड़ रुपये की वसूली मामले में अब CBI ने अनिल देशमुख के 12 ठिकानों पर एक साथ आज छापा मारा है। आज अहमदनगर और मुंबई में DCP राजू भुजबल के आवासों और पुणे और मुंबई में ACP संजय पाटिल के आवासों पर बड़ी छापेमार कार्रवाई की गई। 

    सूत्रों के मुताबिक, मुंबई के वसूली कांड (अनिल देशमुख मामले) में CBI की कार्रवाई जारी है।  इसी क्रम में आज CBI  ने महाराष्ट्र में 12 जगह रेड की है।  इसके अलावा दो पुलिस अधिकारियों के ठिकाने पर भी एक छोपमारी की कार्रवाई की है। जिसमें DCP राजू बुजबल के अहमद नगर ठिकाने पर भी सीबीआई ने छापा मारा।  इसी के साथ पुणे में ACP संजय पाटिल के घर पर भी छापेमारी हुई।  सूत्रों की ही माने तो, CBI की टीम ने थाने, नासिक, सांगली, अहमद नगर और पुणे समेत 12 ठिकानों पर छापेमारी की है।  पता हो कि CBI ने कल 12 जगह सर्च की थी।  इस छापेमारी के दौरान CBI को केस से जुड़े कई अहम दस्तावेज और इलेक्ट्रॉनिक एविडेंस बरामद हुए हैं। 

    गौरतलब है कि एंटीलिया मामले में पूर्व कमिश्नर के एक पत्र से महाराष्ट्र में सियासी भूचाल आ गया था। दरअसल परमबीर सिंह ने CM उद्धव ठाकरे को चिट्टी लिखकर महाराष्ट्र के पूर्व गृहमंत्री अनिल देशमुख पर करप्शन के गंभीर आरोप लगाए थे। परमबीर सिंह ने अपने पत्र में एनआईए द्वारा गिरफ्तार मुंबई पुलिस के API सचिन वाझे के बारे में ज़िक्र करते हुए लिखा था कि, वाझे ने उन्हें बताया था कि, अनिल देशमुख उससे हर महीने 100 करोड़ रुपए देने को कहा था। इस मामले में अब आगे की जांच ED कर रही है। इस्करे साथ ही अब CBI भी इस मामले में अब प्रवेश कर चुकी है।