Ujjwala scheme robbed in lockdown, accused of rigging cylinder distribution
File Photo

भिसी. भिसी वन परिमंडल अंतर्गत पुयारदंड गांव में वनविभाग की ओर से लाभार्थियों को गैस कनेक्शन दिए गए. किंतु एक से डेढ वर्षो से वनविभाग की ओर से दिए जाने वाला अनुदान लाभार्थियों के खाते में नहीं होने से वनविभाग की ओर से गुमराह करने का आरोप लगाया जा रहा है.

ब्रम्हपुरी वनविभाग अंतर्गत चिमूर वनपरक्षिेत्र में भिसी परिमंडल है. इसके अंतर्गत चिचाडा, लावारी, गडपिपरी, वाढोना नर्धिारित जंगल का कुछ हस्सिा है. यह परिसर जंगल से सटा होने की वजह से वनविभाग ने ग्रामीणों को जंगल से जलाऊ लकडिया न जाने की हिदायत देकर गैस कनेक्शन उपलब्ध कराये. क्योंकि कई बार जंगल में जाने वाले हिंसक जानवरों का शिकार हो जाते है. इसलिए शासन ने वन समिति गठित कर गैस कनेक्शन दिए.

इसके लिए लाभार्थियों से कुछ धनराशि लेकर गैस कनेक्शन दिए गए. गैस की रिफिलिंग पर्ची के आधार पर गैस धारकों के खाते में अनुदान जमा होने की सुविधा है. इसीके अंतर्गत इन गांव में 185 गैस कनेक्शन दिए गए. शुरु में एक दो पर्ची जमा करने वालों को लाभ मिला. किंतु अब एक से डेढ वर्ष से लाभार्थियों के खाते में राशि जमा नहीं हो रही है. इसलिए ग्रामीणों ने अधिकारियों से इस ओर ध्यान देकर ग्रामीणों को उचित न्याय देने की अपील की है.