Representable Pic
Representable Pic

    चंद्रपुर. कृषि पम्प बिजली कनेक्शन एवं बकाया में रियायत के संबंध में स्वतंत्र नीति कृषिपम्प बिजली कनेक्शन नीति 2020 अंतर्गत कृषिधारकों को बिजली बिल में सहुलीयन देने की योजना से चंद्रपुर परिमंडल के चंद्रपुर व गडचिरोली जिले का समावेश रहनेवाले चंद्रपुर, वरेारा, चंद्रपुर, ब्रम्हपुरी, गडचिरोली व आलापल्ली विभाग के कुल 33 हजार 978 कृषिपम्प ग्राहकों ने 28 करोड 44 लाख रूपयों का भुगतान किया.

    विशेष यह है कि ऊर्जा मंत्री डा. नितिन राउत की संकल्पना से साकार हुए योजना से पुर्णत: कृषि पंप धारकों को बकायामुक्त होने का अवसर दिया है. इस योजना का लाभ उठाते हुए 17 हजार 469 कृषि पंप धारकों ने 17 करोड़ 50 लाख का भुगतान कर अपने बिजली बिल को शून्य कर इस सुनहरे अवसर का लाभ उठाया है. इन सभी 17 हजार 469 बकाया मुक्त कृषि पंप धारकों को महावितरण ने बकाया मुक्त प्रमाण पत्र जारी किया है. 

    इस योजना की विशेषताओं के अनुसार, चंद्रपुर परिमंडल के कृषि पंप धारकों द्वारा भुगतान की गई बिजली बिल के 28 करोड़ 44 लाख की राशि में से 33 प्रतिशत अर्थात 9 करोड़ 38 लाख कृषि उपभोक्ताओं के संबंधित गांव की बुनियादी सुविधाओं के लिए उपलब्ध होगी और 33 प्रश अर्थात 9 करोड़ 38 लाख बुनियादी सुविधाओं के लिए मिलेगा. यह किसान भविष्य में उनके द्वारा भुगतान किए जाने वाले बकाया के अनुपात में अपने गांव और जिले के विकास में शामिल होंगे. 

    चंद्रपुर परिमंडल के कुल 79,304 ग्राहकों को उनके सितम्बर 2020 तक उनके बिजली बिल बकाया 233 करोड़ के बिजली बकाया पर 18 करोड की 67 लाख रुपये की छूट दी गई है. साथ ही 21 करोड़ 33 लाख रुपये विलंबित आकार व ब्याज के साथ कुल 40 करोड़ रुपये माफ किए गए और बकाया को संशोधित कर 192 करोड़ रुपये किए गए.

    संशोधित बकाया में से आधी राशि ही 96 करोड़ रुपये कृषि ग्राहकों को भुगतान करना है. कृषि उपभोक्ताओं को कुल 136 करोड़ रुपये की छूट दी जाएगी और उन्हें इस योजना के माध्यम से बकाया से छुटकारा पाने का सुनहरा अवसर मिला है. साथ ही उन्हें अपने गांव और जिले को विकसित करने का अवसर मिला है.