फर्जी आयडी द्वारा रेलवे तिकीट की बुकींग; स्टुडन्ट काम्पुटर पर रेलवे पुलिस की छापामार कार्रवाई

    • 1 गिरफ्तार, संचालक फरार 

    चंद्रपुर. जिले के सावली शहर के स्टुडंट कॉम्प्युटर एज्युकेशन इस्टिट्युट में बिनाअनुमती  रेलवे तिकट के लिए फर्जी आयडी का उपयोग कर बुकींग करने की गुप्त सूचना के आधार पर नागपुर रेलवे पुलिस ने छापामार कार्रवाई कर संस्था के संचालक पर रेलवे सेक्शन 143 अंतर्गत कार्रवाई करने से खलबली मची गई. 

    सावली शहर में पिछले कई वर्ष से स्टुडन्ट कम्प्युटर एज्युकेशन नाम से कंप्यूटर इंस्टिट्यूट चलाया जा रहा है. संस्था में आनलाइन के काम कम प्रमाण किए जा रहे थे. संस्था को केवल सीएससी की अनुमती थी. संस्था में सेतू केंद्र चलाया जा रहा था. परंतु संचालक ने आर्थीक लालच में आकर बिनाअनुमती रेलवे तिकट के लिए फर्जी आयडी तैयार कर बुकींग शुरू किया. 

    इसकी गुप्त सूचना नागपुर रेलवे पुलिस को मिलने पर पिछले 15 दिनों से संस्था पर नजर रखे हुवे थे. अंत में 23 मार्च को स्टुडन्ट काम्पुटर पर छापा मारा गया. इस समय रेलवे पुलिस ने संस्था की छानबीन की. उसके बाद संस्था के संचालक पर रेलवे सेक्शन 143 अंतर्गत कारवाई की गई.  

    संस्था के संचालक रुपचंद लाटेलवार ने अवसर का लाभ लेकर वहां से फरार हो गए. संस्था में कार्यरत निखिल जिल्हेवार को रेलवे पुलिस ने गिरफ्तार किया. आगे की जांच नागपुर रेलवे पुलिस कर रही है. 

    13 हजार रूपए की फर्जी तिकट की बिकी 

    रेलवे पुलिस ने की पुछताछ में अबतक 13 हजार रुपए की फर्जी तिकटों की बिक्री किए जाने की बात सामने आयी है.