जल जीवन मिशन के प्रलंबित जलापूर्ति कार्य तत्काल पूर्ण करें

    • जिला विकास समन्वय समिति बैठक में सांसद धानोरकर के निर्देश 

    चंद्रपुर. जलजीवन मिशन अंतर्गत जलापूर्ति योजना महत्वपूर्ण है. कोरेाना काल में सभी कार्य प्रलम्बित है. परंतु अब कोरेाना के प्रमाण कम होने से जलापूर्ति योजना के प्रलम्बित कार्य तत्काल पूर्ण करने के निर्देश सांसद बालु धानोरकर ने नियोजन भवन में आयेाजित जिला विकास समन्वय व सनियंत्रण समिति की बैठक में दिए. 

    इस समय जिला परिषद अध्यक्षा संध्या गुरनुले, सांसद अशोक नेते, विधायक प्रतिभा धानोरकर, जिलाधिश अजय गुल्हाने, जिला ग्रामीण विकास यंत्रणा के प्रकल्प संचालक वर्षा गौरकर, उपमुख्य कार्यकारी अधिकारी कपिल कलोडे, श्याम वाखर्डे, प्रकल्प अधिकारी बक्षी आदी उपस्थित थे. 

    प्रधानमंत्री ग्रामसडक योजना अंतर्गत ग्रामीण क्षेत्र के सडकों के कार्य बडे पैमाने में प्रलम्बित होने की जानकारी सांसद धानोरकर ने दी. प्रधानमंत्री ग्रामसडक योजना अंतर्गत मार्ग के कुल 20 पुल का निर्माण अभीभी अधूरे है. वह कार्य रूका हुआ है इस बारे में विभाग जानकारी ले. पुल के निर्माण का प्रस्ताव 15 दिनों के भीतर तैयार कर मंजुरी के लिए पेश करने की सूचना इस समय की. 

    सांसद धानोरकर ने कहा, प्रधानमंत्री आवास योजना में ग्रामीण क्षेत्र में लाभार्थियों को घरकुल मंजूर हुए है परंतु अबतक घरकुल का लाभ से वंचित है. प्रपत्र ‘ड’ सूची में कुल लाभार्थियों के नाम ऑनलाईन में छुट गए है इस संदर्भ में जानकारी लेकर दखल ले व जीन गांव के नागरिकों को अबतक घरकुल नही मिला उन गावों का सर्वे करने व उसका प्रस्ताव सरकार को पेश करने की जानकारी दी. 

    जलजीवन मिशन अंतर्गत बिजली आपूर्ति के अभाव से वरोरा तहसील के मौजा शेंबल, रालेगांव, फत्तापूर व बोडखा इन चार गावों जलापूर्ति बंद है. वह तत्काल कार्यन्वित करे. जिन गांव की प्रादेशिक जलापूर्ति योजना बंद है अथवा रूकी हुई है. उन संदर्भ में स्थानीय विधायक,  सरपंच, जनप्रतिनिधि ने समस्या का हल निकालने के लिए बैठक लेने के निर्देश दिए. 

    शालेय पोषाहार योजना संदर्भ में केंद्र शासन व राज्य शासन की ओर से अनाज की आपूर्ति हो रही है. उसका दर्जा, भंडारण के लिए अनाज गोडाऊन को भेट देने तथा सप्ताह में एक बार स्कूलों को भेट देने की सूचना शिक्षाधिकारी को दी. प्रधानमंत्री कुशलता विकास योजना अंतर्गत जिले में आठ कौशल्य प्रशिक्षण केंद्र कार्यान्वित है.  प्रशिक्षण से संबंधित तकनिकी समस्या होने पर प्रशिक्षण के लिए संस्था नही मिलने पर उस क्षेत्र के जनप्रतिनिधि से चर्चा करने की सूचना सांसद धानोरकर ने संबंधित विभाग को दिए. 

    घरकुल संदर्भ में कुछ गांव सर्वे से छुट गए हो तो ऐसे गांव की सूची निर्दशन में लाने, किसानों के खेतों में सिचाई के साधन उपलब्ध रहने पर उस तरह की पंजीयन सातबारह पर लेना आवश्यक है. फसल को सातबारह पर दर्ज करे इसके लिए पटवारीयों को विशेष सूचना दिए जाने की जानकारी जिलाधिश अजय गुल्हाने ने दी. 

    प्रास्ताविक प्रकल्प संचालक वर्षा गौरकर ने किया. बैठक में दिशा समिति के सदस्य तथा भद्रावति के नगराध्यक्ष अनिल धानोरकर, गोंडपिपरी पं.स. सभापति सुनिता येग्गेवार, जिवती पं.स. सभापति अंजना पवार, राजूरा पं.स. सभापति मुमताज जावेद अब्दूल, सावली पं.स. सभापति विजय कोरेवार, सिंदेवाही पं.स. सभापति मंदा बालबुधे, नागभीड पं.स. सभापति प्रफुल्ल खापर्डे, जि.प.सदस्य सुनिता धोटे, पवन भगत, कुंदा जेनेकर, मौजा कुचना की सरपंच वर्षा ठाकरे, नगरपालिका के  मुख्याधिकारी, सभी पंचायत समिति सभापति, गटविकास अधिकारी, संबंधित विभाग के विभाग प्रमुख उपस्थित थे.