वर्ष 2017 के अनुसार होगी प्रभाग रचना; कही पर खुशी, कही पर गम

    चंद्रपुर. महानगरपालिका के आगामी चूनाव के लिए तत्कालिन महाविकास आघाडी ने 26 प्रभागों का अंतिम प्रारूप तैयार किया था. दौरान राज्य में ठाकरे सरकार के बदलते ही शिंदे सरकार ने बुधवार को मंत्रिमंडल की बैठक में पहले के प्रभागों का निर्णय रद्द किया. जिससे मनपा का आगामी चूनाव वर्ष 2017 की प्रभाग रचना पर होने की संभावना है. 

    चंद्रपुर के आगामी मनपा चुनाव के लिए प्रभागों की पुनर्रचना होगी इसे ध्यान में लेकर सत्ताधार व अन्य पार्टी के पूर्व पार्षदों ने अपनी क्षमता के अनुसार विकास निधि का उपयोग कर वार्ड में विकास कार्य किए. 26 नए प्रभाग की पुनर्रचना में पुराने प्रभाग अस्त-व्यस्त हो गए. जिससे भाजपा, कांग्रेस व अपक्ष ऐसे 95 प्रश पूर्व पार्षद नए प्रभागों की मानसिकता तैयार कर काम में जुट गए थे. कई नए चेहरों ने वार्ड के नागरीकों से मेलमिलाप बढा दिया था.

    नए प्रभाग रचना प्रारूप से कुछ लोगों को नुकसान पहुचने से तो किसी को इसका लाभ पहुचने से कईयों के अपेक्षाए बढ गयी थी. प्रारूप के बारे में नागरीकों ने आक्षेप व सूझाव पेश करने के बाद प्रारूप तैयार किया था. परंतु इसमें कई प्रभाग के वार्ड अस्त-व्यस्त हो जाने से अधिक्तर पूर्व पार्षदों के चेहरे पर गम दिखाई दे रहा था. तो नए वार्ड के बनने से नए चेहरे को मौका मिलने से उनके चेहरे पर खुशीयां छायी थी. 

    वर्ष 2017 की चूनाव में चंद्रपुर में 17 प्रभाग व पार्षदों की संख्या 66 थी. तत्कालीन ठाकरे सरकार के निर्णय अनुसार एक प्रभाग में तीन सदस्य निर्वाचित होनेवाले थे. नए 26 प्रभागों को ध्यान में लेते हुवे कईयेां ने तैयारी के लिए शुरूवात की थी. वर्ष 2017 के पूराने सभी प्रभागों में पुर्नबदलाव हुवे. इसलिए पूर्व पार्षद, विभीन्न राजनितिक पार्टी के नेता, कार्यकर्ताओं ने नए प्रारूप अनुसार नागरीकों से मेल मिलाप बढाया था. परंतु बुधवार की राज्य सरकार के निर्णय से भाजपा के पार्षदों में खुशी तो अन्य इच्छुक तथा नए चेहरे के उम्मीद्वारेां के चेहरे पर नाराजगी दिखाई दे रही है.