बाघ के हमले में खरमत का किसान जखमी, सप्ताह की चौथी घटना

    पोंभूर्णा. पोंभूर्णा तहसील में बाघ की दहशत बनी हुई है. पिछले सप्ताह भर से बाघ नें पोंभूर्णा तहसील में कहर ढाया है. बुधवार 24 नवम्बर से अबतक पोंभूर्णा में बाघ के हमले में 1 महिला की मृत्यु, 1 युवक जखमी तो दो बकरी का शिकार किया है.

    यह घटनाएं ताजा ही है कि इस बीच सोमवार की दोपहर 3 बजे बाघ ने खेत में कपास चुनने व खेती कार्य करने गए किसान पर हमला कर दिया जिसमें वह किसान जखमी हो गया है. जखमी किसान का नाम केशव भिवाजी रामटेके है. यह खरमत निवासी है. 

    कोठारी वनपरिक्षेत्र अंतर्गत आनेवाले बेर्डी खेती में खरमत निवासी किसान केशव भिवाजी रामटेके 60 यह खेत में कपास चुनने व खेती कार्य करने की गए थे. इसी बीच दोपहर 3 बजे खेत में छिपे बाघ ने केशव हमला कर दिया. जिसमें केशव जखमी हो गया. फिलहाल खेती का मौसम शुरू है. कपास चुनने व धान मलनी का कार्य तेजी से चल रहा है.

    हमले के बाद केशव ने शोर मचाने पर बाजु के खेत में कार्य कर रहे उसके पुत्र व खेतमजदूर बचाव हेतु घटनास्थल की ओर से दौडे. और उन्होने बाघ को खदेड दिया जिससे केशव की जान बच गयी. जखमी केशव को वैद्यकीय उपचार के लिए पोंभूर्णा प्राथमिक स्वास्थ केंद्र में लाया गया. केशव पर उपचार चल रहा है. 

    इसके पहले भी 24 नवम्बर को पोंभूर्णा तहसील में कविठबोडी में खेत में बेबी धोडरे पर बाघ ने हमला किया था जिसमें उसकी मृत्यु हो गयी. 25 नवम्बर को पोंभूर्णा के चिंतामणी महाविद्यालय के पास सडक दोस्त की राह देख रहे राहुल चव्हाण पर हमला किया था. जिसमें वह गंभीर जखमी हुआ था. 26 नवम्बर को बकरीयों के झुंड पर बाघ ने हमला कर 2 बकरियों को निवाला बनाया था. और 29 नवम्बर को केशव पर हमला कर उसे जखमी कर दिया. सप्ताह में यह चौथी घटना होने से तहसील में बाघ की दहशत फैल गयी है.