NCP Andolan Chandrapur

    चंद्रपुर. करोडों  रुपयों की अमृत जल योजना है इस काम क समयावधि लगभग समाप्त होचुकी है इसके बावजूद अब तक बाबूपेठ प्रभाग के बाबानगर और गौरी तालाब परिसर में जनता को अब तक जलापूर्ति शुरू नहीं हो पायी है. यहां की जनता पेयजल के लिए भटक रही है.

    इस ज्वलनशील प्रश्न को लेकर चंद्रपुर शहर राष्ट्रवादी कांग्रेस पूर्व नगरसेवक विनोद लभाने और महिला कार्याध्यक्षा चारूशीला बारसागडे के नेतृत्व में चंद्रपुर मनपा के सामने आंदोलन किया गया. इस समय मनपा के खिलाफ उपस्थित पदाधिकारियों और नागरिकों ने नारे लगाकर आक्रोश जताया.

    इस आंदोलन के समय शहर जिलाध्यक्ष राजीव कक्कड, युवक प्रदेश कार्याध्यक्ष नितीन भटारकर, ओबीसी जिलाध्यक्ष डी.के.आरीकर, विधानसभा अध्यक्ष सुनील काले, युवक अध्यक्ष अभिनव देशपांडे, युवक विधानसभा अध्यक्ष आकाश निरंटवाट, शहर उपाध्यक्ष राहुल देवतले, महासचिव संभाजी खेवले, सतीश मांडवकर, केतन जोरगेवार, शुभांगी बहादुरे, नम्रता रायपुरे, महानंदा वालके, प्रीति लभाने, कुसुम कटवले, शंकुतला नक्षीणे, भोयर, धीरज बागेसर, प्रीतम दुर्गे, विपीन लभाने, सुनील भाईसरे साथ ही बाबूपेठ परिसर में बडी संख्या में महिला एवं पुरूष आदि उपस्थित थे.

    आंदोलन उपरांत चंद्रपुर शहर राष्ट्रवादी कांग्रेस के शिष्टमंडल ने चंद्रपुर मनपा आयुक्त को निवेदन दिया गया. एवं विस्तार पूर्वक चर्चा की गई. इसके उपरांत आयुक्त ने सभी अधिकारियों से चर्चा कर आनेवाले 30 तारीख तक बाबा नगर और गौरी तालाब परिसर में नागरिकों को पानी देने का लिखित आश्वासन दिया. आश्वासन की पूर्ति 30 तारीख नहीं होने पर उग्र आंदोलन करने का इशारा विनोद लभाने एवं महिला कार्याध्यक्ष चारूशीला बारसागडे ने दिया.