File
File

    चंद्रपुर. तलोधी बा. में वर्षभर पूर्व पांच करोड रूपयों की निधि खर्च कर जलविद्युत शुध्दिकरण यंत्र की पूरक जलापूर्ति योजना कार्यान्वित की गई थी. मात्र घटिया दर्जे की पाईपलाईन के कारण किटाली गांव के पास पाईप लाईन फूट गई इसके चलते नलयोजना बंद पड़ गई है. इससे पेयजल के लिए महिलाओं को परेशानी उठानी पड़रही है.

    तहसील में सबसे बड़ी तलोधी बा. ग्रामपंचायत है. इन स्थानों पर गांव के आबादी की दृष्टिकोण से दो पानी की टंकी थी. मात्र गांव में नलयोजना के माध्यम से पर्याप्त पानी नहीं मिलने के कारण पिछले वर्ष सिंचाई विभाग की ओर से तलोधी बा. में नयी पूरक जलापूर्ति जलविदयुत शुध्दिकरण यंत्र लगाया गया.

    इसके लिए घोड़ाझरी बांध से पाईपलाईन द्वारा जलापूर्ति की जा रही थी. मात्र निकृष्ट दर्जे की पाईपलाईन के कारण जगह जगह यह क्षतिग्रस्त हो गई. इसके चलते तलोधी बा. के नागरिकों को कुओं, बोरवेल का पानी पीना पड़ रहा है.

    बारंबार नलयोजना बंद किए जाने से नागरिक काफी त्रस्त है. ग्रामपंचायत तलोधी की ओर से लाईन की दुरूस्ति की जा रही है. पानी उपलब्ध कराने की ग्रामीणों ने मांग की है.