शहर बस सेवा शुरू होने की प्रतीक्षा; बल्लारपुर-अंचलेश्वर गेट-उर्जानगर बस सेवा बंद

    • यात्रियों को रोजाना हो रही है परेशानी

    चंद्रपुर: नगर पालिका का रूपांतर हुए एक दशक से अधिक का समय बीतने के बाद भी चंद्रपुर शहर में अब तक महानगर पालिका की ओर से शहर बससेवा शुरू नहीं हो पायी है वहीं राज्य परिवहन निगम की ओर से चलाई जा रही बल्लारपुर_ अंचलेश्वर गेट_उर्जानगर बस सेवा भी अब बंद कर दी गई है. ऐसे में शहर के भीतर काम के सिलसिले में, ईलाज के लिए आनेवाले यात्रियों को काफी असुविधाओं का सामना करना पड़ रहा है.

    उल्लेखनीय है कि जिले में राज्य परिवहन निगम की बस सेवा का प्रारंभ होने के समय से लेकर लगभग 50 वर्ष से अधिक समय पूर्व से चंद्रपुर नगर पालिका के समय से ही राज्य परिवहन निगम द्वारा बल्लारपुर से अंचलेश्वर गेट तक बसेस चलाई जाती थी. जबकि अंचलेश्वर गेट से होकर बस स्टैंड तक बसेस चलती थी. कालांतर में उर्जानगर वासियों की मांग पर राज्य परिवहन निगम ने बस सेवा को अंचलेश्वर गेट से उर्जानगर तक शुरू किया था.

    इस तरह की व्यवस्था का शहर से होकर चंद्रपुर आनेवाले बल्लारपुर, राजुरा समेत अन्य क्षेत्र के नागरिक लाभ उठा रहे थे. विशेषकर स्कूली विद्यार्थियों के लिए यह बस सेवा काफी सुविधाजनक थी. इसके चलते राज्य परिवहन निगम का मुख्य बस स्टैंड के अलावा अंचलेश्वर गेट पर भी एक बस स्टैंड था. यहां एक अधिकारी नियुक्त किया गया था.

    कई वर्षों से यह बससेवा सुचारू रूप से चलती रही. बीच में राज्य परिवहन निगम ने बल्लारपुर से लेकर उर्जानगर तक सीधी बस सेवा शुरू कर दी थी. परंतु कोरोना महामारी के पूर्व से ही धीरे धीरे बसों की संख्या में कमी करने के बाद अब पूरी तरह से शहर बस सेवा बंद दी गई है. 

    शहर बस सेवा बंद होने जाने से स्कूल_कालेज बंद होने से विद्यार्थियों को कुछ खास असर नहीं हुआ है परंतु अन्य नागरिकों जिनमें जिला सामान्य अस्पताल, निजी अस्पतालों में उपचार के लिए आनेवाले नागरिक, निजी व्यवसाय, एवं निजी नौकरियां करनेवाले कम वेतनभोगी कर्मचारी महिला_पुरूष, छोटे व्यापारियों आदि का आटो का दुगुने से अधिक भाड़ा अदा कर शहर होते हुए आवागमन करना पड़ रहा है.

    महानगर पालिका के अस्तित्व में आने के बाद नागपुर, अमरावती जैसे बड़े शहरों की तरह ही यहां भी स्थानीय प्रशासन की ओर से बस सेवा शुरू किए जाने की अपेक्षा थी परंतु महानगर पालिका ने इस संदर्भ में किसी भी तरह की पहल नहीं की है. जबकि महानगर पालिका क्षेत्र का विस्तार तेजी से हुआ है. परकोटे के भीतर बसा चंद्रपुर शहर दूर दूर कालोनियों, बस्तियों में आबाद हो चुका है. नये चंद्रपुर के पूरी तरह से विकसित होकर यहां नई नई कालोनियों बस गई है.

    नागपुर रोड पर पडोली तक, मूल रोड पर एमईएल तक, बल्लारपुर रोड पर बाईपास तक व्यापार और आबादी का विस्तार होने से सभी नागरिकों को शहरी बस सेवा की अत्यंत आवश्यकता है. मनपा के सीमाविस्तार की दिशा में सरकार निर्णय लेने जारही है. ऐसे में मनपा अथवा राज्य परिवहन निगम को नागरिकों को हो रही परेशानियों को देखते हुए शहरी बस सेवा शुरू करने की अत्यंत आवश्यकता है.