CM Uddhav Thackeray will hold an important meeting with Top police officials regarding women's safety in Maharashtra and Mumbai
File

    मुंबई: मुंबई (Mumbai) के साकानाकी (Sakinaka) इलाके में हुई रेप (Sakinaka Rape) और महिला (Woman) के साथ बर्बरता की वारदात के बाद महाराष्ट्र सरकार (Maharashtra Government) ने राज्य में महिलाओं की सुरक्षा (Women Security) को लेकर कड़े कदम उठाने का फैसला किया है। इस कड़ी में राज्य के सीएम उद्धव ठाकरे (CM Uddhav Thackeray) ने आज यानी सोमवार को राज्य के सभी पुलिस आयुक्त सहित जीआरपी और राज्य के गृह मंत्रालय से जुड़े वरिष्ठ अधिकारियों की बैठक बुलाई है। बताया जा रहा है कि, इस बैठक में महिलाओं की सुरक्षा को लेकर अहम चर्चा की जाएगी।

    घटना के सामने आने के बाद इस मामले में महाराष्ट्र के सीएम ऑफिस ने शनिवार को कहा था कि, राज्य के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने घटना की पूरी जानकारी ली और पुलिस कमिश्नर से इस मामले में बात की है। उन्होंने कहा कि, इस केस को फास्ट ट्रैक पर लिया जाएगा और पीड़िता को न्याय ज़रूर मिलेगा। सीएम ने जांच में तेजी लाने के भी निर्देश दिए हैं। 

    साकीनाका में हुई ददर्नाक घटना के बाद पीड़ित महिला की अस्पताल में इलाज के दौरान शनिवार को मौत हो गई थी। इस मामले को लेकर महाराष्ट्र बीजेपी (BJP) ने शनिवार को घटना को दुर्भाग्यपूर्ण बताते हुए कहा था कि, घटना मानवता को कालिख पोतने वाली है। बीजेपी ने इस मामले में आरोपी को फांसी की सजा देने की मांग की थी। तो वहीं एनसीपी ने इस मामले को दुखद बताते हुए कहा था कि, सरकार का प्रयास रहेगा कि, सरकार फास्ट ट्रैक पर मामला ले जाए। आरोपी को निश्चित तौर पर कड़ी सजा मिलेगी। 

    बता दें कि, 10 सितंबर को पुलिस को कंट्रोल रूम पर सुबह 3.30 बजे कॉल आया था। इसमें साकीनाका के खैरानी रोड पर खून से लथपथ एक महिला के बेहोश होने की सूचना पुलिस को दी गई थी। 32 वर्षीय पीड़ित महिला के साथ बलात्कार कर उसके प्राइवेट पार्ट में रॉड डालने से पीड़िता गंभीर रूप से घायल हो गई थी और अस्पताल में भर्ती थी, वारदात के बाद से ही महिला की हालत गंभीर बनी हुई थी। महिला को घाटकोपर के राजावाड़ी अस्पताल भर्ती कराया गया था। इलाज के दौरान अस्पताल में पीड़िता की शनिवार को मौत हो गई थी।

    मामले में गिरफ्तार 45 वर्षीय आरोपी को पुलिस ने गिरफ्तारी के बाद शनिवार को कोर्ट में पेश किया। कोर्ट ने उसे 21 सितंबर तक पुलिस हिरासत में भेज दिया है।