File Photo: ANI
File Photo: ANI

    मुंबई. महाराष्ट्र में कोरोना वायरस संक्रमण के मामलों में बढ़ोत्तरी हो रही है। राज्य में बीते 24 घंटे में 46 हजार 197 नए मरीज और 37 संक्रमितों की मौत हो गई। इसी बीच महाराष्ट्र के स्वास्थ्य मंत्री राजेश टोपे ने कहा है कि महाराष्ट्र के स्वास्थ्य मंत्री राजेश टोपे ने कहा कि, राज्य में पॉजिटिविटी रेट 23.5 प्रतिशत है, लेकिन रायगढ़, पुणे, नासिक, नांदेड़ जैसे जिलों में पॉजिटिविटी रेट बहुत अधिक है। हालांकि, हाई पॉजिटिविटी रेट के बावजूद, अस्पताल में भर्ती होने का रेट बहुत कम है और राज्य में 95 फीसदी बेड खाली हैं।

    नासिक में 2,417 नए मामले

    स्थानीय प्रशासन के मुताबिक नासिक में पिछले 24 घंटे में 2,417 नए मामले और दो मरीजों की मौत दर्ज की गई हैं। जिसके बाद जिले में संक्रमितों की संख्या 4,41,495 हो गई। वहीं जिले में आज 1,691 मरीजों को अस्पतालों से छुट्टी दे दी गई। इसी के साथ ठीक होने वालों की संख्या बढ़कर 4,17,893 हो गई।

    प्रशासन ने कहा कि जिले में अब तक दर्ज किए गए कुल मामलों में से नासिक शहर में 2,52,073 और जिले के अन्य हिस्सों में 1,64,970, मालेगांव में 13,279 और जिले के बाहर के 7,257 मरीज पाए गए। अधिकारियों के अनुसार जिले में फिलहाल 14,827 मरीजों का इलाज चल रहा है।

    मुंबई में कमजोर पड़ रही कोरोना की तीसरी लहर

    राजधानी मुंबई में पिछले 24 घंटे में कोरोना के 5,708 नए मामले और 12 मरीजों की मौत हो गई है। इसके अलावा 15,440 लोग इस खतरनाक वायरस से उबरे हैं। इसी के साथ शहर में कोरोना से ठीक होने वालों की संख्या 9,82,425 और मृतकों की संख्या 16,500 हो गई है। फिलहाल शहर में 22,103 एक्टिव मरीज हैं।

    चिंता वाले राज्यों में महाराष्ट्र

    इससे पहले आज, केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने कहा कि कोरोना के बढ़ते मामलों के मामले में महाराष्ट्र, कर्नाटक, तमिलनाडु, केरल, दिल्ली और उत्तर प्रदेश ‘चिंता के राज्यों’ में से हैं। इन राज्यों में केंद्रीय स्वास्थ्य दल भेजे हैं और स्थिति की लगातार समीक्षा कर रहे हैं। वहीं महाराष्ट्र, कर्नाटक, तमिलनाडु, केरल, पश्चिम बंगाल, यूपी, गुजरात, ओडिशा, दिल्ली और राजस्थान सक्रिय मामलों के मामले में शीर्ष 10 राज्यों में शामिल हैं।

    सरकार ने यह भी कहा कि कोरोना वायरस के मामलों में मौजूदा तेजी से गंभीर बीमारी नहीं हो रही है और टीकाकरण के कारण कोरोना से होने वाली मौतों में काफी कमी आई है।

    केंद्र ने कहा कि ग्यारह राज्यों में केंद्र शासित प्रदेशों में 50,000 से अधिक एक्टिव कोरोना मामले सामने आए हैं, जिसमें 515 जिलों में साप्ताहिक मामले की पॉजिटिविटी दर 5 प्रतिशत से अधिक है।