महिलाओं की सुरक्षा के लिए निर्भया दस्ते का गठन, आदित्य ठाकरे ने कहा- भय मुक्त राज्य बनाने पर महत्वपूर्ण कदम

    मुंबई: महाराष्ट्र सरकार ने मुंबई में महिलाओं की सुरक्षा के लिए बड़ा निर्णय लेते हुए निर्भया दस्ते का गठन किया है। वर्चुअल माध्यम से आयोजित इस कार्यक्रम में मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने 91 निर्भया दस्ते वाहनों को हरी झंडी दिखाकर रवाना किया। इसके बाद पत्रकारों से बात करते हुए पर्यावरण मंत्री आदित्य ठाकरे ने कहा, “भय मुक्त राज्य बनाने पर यह महत्वपूर्ण कदम है।”

    शिवसेना नेता ने कहा, “दस्ते में विशेष रूप से प्रशिक्षित महिला और पुरुष अधिकारी शामिल हैं, जो पूरे मुंबई में 24/7 तैनात हैं। तत्काल सहायता के लिए कोई भी 103 डायल कर सकता है।”

    पर्यावरण मंत्री ने कहा, “इसके बाद पत्रकारों से बात करते हुए कहा, “जब कोई घटना होती है, तो हम महिला से सवाल करते हैं: वह बाहर क्यों घूम रही थी, उसने क्या पहना था? महिलाओं को स्वतंत्र रूप से घूमने की अनुमति दी जानी चाहिए। यह भय मुक्त राज्य बनाने की दिशा में एक महत्वपूर्ण कदम है।”

    मुंबई में आयोजित इस कार्यक्रम में राज्य के गृहमंत्री दिलीप वालसे पाटिल, एनसीपी नेता और बारामती से सांसद सुप्रिया सुले, पर्यावरण मंत्री आदित्य ठाकरे, मुंबई की महापौर किशोरी पेडणेकर, शिवसेना नेता नीलिमा गुहे सहित कई मंत्री और नेता शामिल थे।