Former Mumbai Police Commissioner Param Bir Singh did not appear before ACB, was issued summons in extortion case
File Photo

    मुंबई: एक बड़ी खबर के अनुसार मुंबई के पूर्व पुलिस आयुक्त और वरिष्ठ आईपीएस अधिकारी परमबीर सिंह (Parambir SIngh) को आखिरकार निलंबित (Suspended) कर दिया गया है। उन पर यह  कार्रवाई अनुशासनहीनता और अन्य गड़बड़ियों को लेकर की गई है। खबरों के मुताबिक मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने सिंह के निलंबन की फाइल को मंजूरी दे दी। जिसके तहत परमबीर सिंह को सस्पेंड कर दिया गया है।

    राज्य के गृह मंत्री दिलीप वलसे पाटिल ने पहले कहा था कि नियमों का उल्लंघन करने पर परमबीर सिंह को निलंबित किया जाएगा। उन्होंने कहा “हम परमबीर सिंह के खिलाफ उनके  अनुशासनहीनता और अनियमितताओं के लिए कानूनी कार्रवाई करने की प्रक्रिया में हैं। उनके खिलाफ निलंबन की कार्रवाई की प्रक्रिया भी चल रही है।” उसके अनुसार, आज आधिकारिक रूप से कार्रवाई की गई।

    खबरों के मानें तो परमबीर सिंह को लेकर आईएएस अधिकारी देबाशीष चक्रवर्ती की रिपोर्ट को महाराष्ट्र सरकार ने स्वीकार कर लिया है। देबाशीष चक्रवर्ती ने परमबीर सिंह के खिलाफ सिविल सेवा नियमों के उल्लंघन के आरोप में पूछताछ की थी। इसके अलावा, राज्य के गृह विभाग ने उनके खिलाफ प्रशासनिक त्रुटियों के लिए भी विभागीय जांच शुरू की थी।

    गौरतलब है कि बीते सोमवार को परमबीर सिंह खुद के खिलाफ दर्ज जबरन वसूली के दो मामलों में बयान देने के लिए सीआईडी के सामने पेश हुए थे। सीआईडी परमबीर सिंह के खिलाफ मरीन ड्राइव और कोपरी पुलिस स्टेशन में दर्ज मामलों की जांच कर रही है।