अगले बरस जल्दी आ… के गुंज में विदा होंगे बाप्पा,  सादगी से किया जाएगा विसर्जन

    गड़चिरोली.  बिते 10 दिनों से मेहमान बने चहीते बाप्पा को विदा करने का दिन आ ही गया है. रविवार 19 सितंबर को अनंत चतुदशी के दिन 10 दिनों से विराजीत गणेश मुर्तियों विसर्जन किया जानेवाला है. जिसके तहत गड़चिरोली शहर समेत जिलेभर के तालाब, नदीतट आदि जलाशयों में विसर्जन के मद्देनजर कड़ी सुरक्षा व्यवस्था रखी गई है.

    गणेश विसर्जन के मद्देनजर शहरों में भी पुलिस का कड़ा बंदोबस्त रहनेवाला है. बतां दे कि, बिते वर्ष की तरह इस वर्ष भी कोरोना महामारी के कारण गणेशोत्सव सादगी से मनाया जा रहा है. जिसके तहत विसर्जन भी सादगी से ही किया जानेवाला है. जिससे विसर्जन में पहले जैसी धूम नहीं रहेगी, पर श्रद्धालु उत्साहपूर्वक नम आंखो से अपने बाप्पा को विदा करेंगे. इस दौरान गणपती बाप्पा मोरया… अगले बरस तु जल्दी हा के गुंज के साथ गणपती बाप्पा विदा होनेवाले है. 

    शोभायात्रा, जुलूस निकालने पर पाबंदी

    कोरोना महामारी का प्रादुर्भाव् इस वर्ष भी कायम है. जिसके तहत प्रशासन ने उत्सव, त्यौहार सादगी से मनाने की अपील की है. वहीं गणेशोत्सव के मद्देनजर विसर्जन रैली, शोभायात्रा, जुलूस आदी पर पाबंदी लगाई गई है. जिस कारण इस वर्ष सादगी से बाप्पा को विदा करना पड़ेगा. कोरोना के मद्देनजर नियमों का पालन होना अनिवार्य है. जिसके तहत प्रशासन के समक्ष नियमों का पालन करना एक बडा आह्वान भी है. 

    इंदिरा गांधी चौक रहेगा विरान

    बतां दे कि, प्रति वर्ष गणेशोत्सव के मद्देनजर गडचिरोली शहर में विशाल विसर्जन रैलीयां निकाली जाती थी. विसर्जन रैली को देखने के लिए गडचिरोली शहर के इंदिरा गांधी चौक के साथ ही प्रमुख मार्गो पर लोगों की भीड जुट जाती थी. मात्र कोरोना महामारी के चलते बिते वर्ष की तरह इस वर्ष भी इंदिरा गांधी चौक विरान रहने की बात कहीं जा रही है. विसर्जन सादगी से किया जानेवाला है. कोरोना के मद्देनजर भीड को रोकना अनिवार्य है. 

    जलाशयों पर पुलिस का कडा बंदोबस्त

    गणेश विसर्जन के मद्देनजर गड़चिरोली शहर के तालाब परिसर तथा कठाणी नदीतट पर पुलिस का बंदोबस्त रखा गया है. नदीयों में मुर्तियों का विसर्जन करने के लिए गोताखोरो का इंतजाम भी किया गया है. निर्माल्य से तालाब प्रदूषित न हो, इसकी भी व्यवस्था नगर परिषद द्वारा की गई है. वही तालाब परिसर में रोशनी आदि सुविधाएं भी उपलब्ध कराई गई है.