सी-60 कमांड़ों ने किया नक्सली कैम्प ध्वस्त, रविवार को कोपर्शी-फुलनार जंगल में हुई थी मुठभेड़

    गड़चिरोली. जिले की भामरागड़ तहसील के कोपर्शी-फुलनार जंगल क्षेत्र में नक्सलियों का कैम्प शुरू होने की गोपनिय जानकारी मिलते ही जिला पुलिस दल के सी-60 कमांडों ने उक्त जंगल क्षेत्र में घुसकर अभियान तीव्र कर दिया. इसी बीच पुलिस जवानों को अपनी ओर आते देख नक्सलियों ने जवानों की दिशा में अंधाधुद गोलीबारी करना शुरू कर दिया.

    जवाबी हमले में पुलिस जवानों ने भी नक्सलियों की दिशा में गोलियां दागना शुरू कर दिया. काफी देर तक चली इस मुठभेड़ के बाद पुलिस जवानों का बढ़ता दबाव देख नक्सली घंने जंगल का लाभ उठाते हुए जंगल में फरार हो गये.

    जिसके बाद पुलिस जवानों ने नक्सलियों का कैम्प ध्वस्त किया. यह घटना रविवार को शाम के समय घटी. ज्ञात हो कि, शुरू वर्ष से ही जिला पुलिस दल नक्सलियों पर हावी रहा है. इस वर्ष पुलिस जवानों ने कई नक्सलियों को मार गिराया. विशेषत: नक्सलियों के सप्ताह के दौरान जहाल नक्सल दम्पती ने पुलिस के सामने आत्मसर्पण किया था.

    तीन बार हुई मुठभेड़

    जंगल क्षेत्र में नक्सलियों का नक्सलियों का कैम्प शुरू होने की गोपनिय जानकारी मिलने के बाद सी-60 कमांडों ने उक्त जंगल क्षेत्र को चहुओर से घेर लिया. मात्र पुलिस जवानों की भनक लगते ही नक्सलियों ने गोलीबारी करना शुरू कर दिया. यह मुठभेड़ शाम 4.30 बजे से लेकर शाम 7 बजे तक करीब 3 घंटों तक जारी रही.

    जिसके बाद पुलिस जवानों का बढ़ता दबाव देख नक्सली जंगल में फरार हो गये. घटना के बाद पुलिस जवानों ने दुबारा उक्त जंगल क्षेत्र में सर्चिंग ऑपरेशन चलाया. इसी बीच जंगल में छिपे नक्सलियों ने दुबारा जवानों पर गोलीबारी की. इस मुठभेड़ में भी जवानों ने नक्सलियों को भागने पर मजबूर किया. इसके बाद पुन: तिसरी बार पुलिस और नक्सलियों के बीच मुठभेड़ हुई. जहां जवानों ने नक्सलियों को भागने पर मजबूर किया.

    अबुझमाड़ में घुसे जवान

    भामरागड़ तहसील छत्तीसगढ़ राज्य से सटी हुई है. वहीं छग के अबुझमाड़ को अधिकत्तर हिस्सा भामरागड़ तहसील में भी है. उक्त नक्सली कैम्प अबुझमाड़ जो कि नक्सलियों का गढ़ माना जाता है, इस क्षेत्र में चल रहा था. इसकी जानकारी मिलते ही गड़चिरोली के बहादुर सी-60 कमांडों वरिष्ठ पुलिस अधिकारियों के आदेश पर नक्सलियों का गढ़ अबुझमाड़ में घुस गये. और नक्सलियों का कैम्प नष्ट करने में सफलता हासिल की.

    जवानों ने किया आईडी नष्ट

    नक्सली कैप्म नष्ट करने के बाद सर्चिंग अभियान चलाकर पुलिस जवानों ने बड़े पैमाने पर नक्सली सामग्री बरामद की. इस समय आईडी समेत अन्य विस्फोटक सामग्री जब्त की गई. जिसे जवानों ने मौके पर ही सतर्कता बरतते हुए नष्ट कर दिया.

    सी-60 कमांडों के इस उल्लेखनीय कार्य के चलते जिला पुलिस अधिक्षक अंकित गोयल, अपर पुलिस अधिक्षक (अभियान) सोमय मुंडे, अपर पुलिस अधिक्षक (प्रशासन) समीर शेख, अहेरी के अपर पुलिस अक्षिक अनुत तारे, पुलिस उपअधिक्षक (अभियान) भाऊसाहब ढोले, प्राणहिता के प्रभारी अधिकारी (सी-60) योगीराज जाधव आदि ने पुलिस जवानों के कार्य की सराहना की है.