विकास के लिये पृथक विदर्भ राज्य का निर्माण करें, लोकसभा में सांसद अशोक नेते की मांग

    गड़चिरोली. पृथक विदर्भ राज्य निर्माण करने की मांग पिछले अनेक वर्षो से की जा रही है. लेकिन अब तक यह मांग पूर्ण नहीं हो पायी है. विदर्भ राज्य अलग नहीं होने के कारण विदर्भ का आवश्यकता नुसार विकास नहीं हो पाया है. अनेक कार्य प्रलंबित पड़े है. विशेषत: राज्य में नौकर भर्ती नहीं होने के कारण लाखों बेरोजगार युवक रोजगार के लिये भटक रहे है. जिससे विदर्भ का विकास करने के लिये पृथक विदर्भ राज्य निर्माण करें, ऐसी मांग गड़चिरोली-चिमुर लोकसभा क्षेत्र के सांसद अशोक नेते ने लोकसभा में की है. 

      सांसद अशोक नेते ने कहां कि, पूर्व विदर्भ के जिलो में रोजगार के अवसर काफी कम होने के कारण बेरोजगार युवाओं को रोजगार नहीं मिल रहा है. जिसका खामियाजा इस क्षेत्र के युवा निराश होकर गलत मार्ग की ओर बढ़ रहे है. बेेरोजगार युवाओं को रोजगार उपल्ब्ध करा देने के लिये और विदर्भ का सर्वागींण विकास करने के लिये विदर्भ राज्य निर्माण करने की आवश्यकता है.

    पृथक विदर्भ राज्य निर्माण करने के लिये अब तक अनेक बार आंदोलन किए गए. साथ ही सरकार स्तर भी प्रयास किया गया. लेकिन स्वतंत्र विदर्भ राज्य नहीं बन पाया. जिसके कारण इस क्षेत्र के आदिवासी व ग्रामीण क्षेत्र का विकास नहीं हो पाया है. विदर्भ राज्य का निर्माण होने पर विदर्भ के विकास को बढ़ावा मिलने के साथ लाखों बेरोजगारों को रोजगार मिलकर वह विकास की मुख्यधारा में शामिल होंंगे. जिससे केंद्र सरकार उचित निर्णय लेकर स्वंतत्र विदर्भ राज्य की घोषणा करे, ऐसी मांग भी सांसद अशोक नेते ने की है.