Leopard Attack in Maharashtra : Leopard attack in Chandrapur, Maharashtra, woman died in the attack
File

    देसाईगंज. तहसील के कोरेगाव में 7 अगस्त को सुबह के दौरान तेंदुए ने हमला कर शंकर मस्के के गौशाला के बछड़े को मौत के घाट उतारा था. जिससे गाव में दहशत का वातावरण फैला था. जिससे वनविभाग ने व ग्राम प्रशासन की ओर से गाव में रात की गस्त शुरू की गई है. 

    कोरेगाव का किसान शंकर मस्के के गौशाला में बांधे हुए मवेशियों में से एक बछड़े पर तेंदुए ने 7 अगस्त को देर रात के बाद हमला कर मौत के घाट उतारा. कोरेगाव, चोप, रावणवाडी यह तीनों गाव कुछ ही दूरी पर है.

    अधिक लोकबस्ती होनेवाले जगह पर तेंदुए ने पहिली बार ही मवेशियों पर हमला करने से नागरिकों में दहशत का वातावरण निर्माण हुआ है. जिससे वनविभाग ने सतर्कता दिखाते हुए जगह जगह ट्रॅप कैमेरे लगाए है. शंकरपुर के वनपरिक्षेत्र अधिकारी मेनेवार के मार्गदर्शन में रात की गस्त शुरू की गई है.

    इसमें कोरेगाव, चोप, रावणवाडी नियत क्षेत्र के वनरक्षक कांबले, कोरेगाव के सरपंच प्रशांत किलनाके, पुलिस पटेल श्याम उईके, ग्रापं सदस्य धनंजय तिरपुडे, कोरेगाव चोप के वनसहाय्यक व ग्रामीण शामिल हुए है. अनुचित घटना न घटे इसलिए रात की गस्त शुरू की. लेकिन नागरिक सतर्क रहे, ऐसा आह्वान सरपंच किलनाके व वनविभाग ने किया है.