Gas leak in a Mumbai company, 1 killed, two injured
Representative Photo

    • -चंद्रा गांव में घटी दिल दहला देनेवाली घटना 

    पेरमिली. गांव समीपस्थ खेत तालाब में खेलने जाना दो चचेरे भाईयों को महंगा पड़ा है. खेत तालाब में डुबने से दो चचेरे भाईयों की मृत्यु होने की घटना मंगलवार 30 नवंबर को अहेरी तहसील के पेरमिली क्षेत्र अंतर्गत आनेवाले चंद्रा गांव में घटी. इस घटना अहेरी उपविभाग में खलबली मच गयी है. मृतकों में चंद्रा गांव निवसी अनुप सुधाकर वेलादी (11) और बिराज रामदास वेलादी (11) का समावेश है. 

    प्राप्त जानकारी के अनुसार, पेरमिली से 7 किमी दुरी पर स्थित चंद्रा गांव निवासी अनुप व उनका चरेरा भाई बिराज यह दोनों मासूम बच्चे सुबह के समय अनुप के पिता के मालिकाना खेत स्थित खेत तालाब परिसर में खेलने के लिये गये थे. इस दौरान खेलते-खेलते दोनों भाई खेत तालाब में गिर गये. और पानी की गहराई में चले जाने केकारण दोनों की तालाब में डुबने से मृत्यु हो गयी.

    इस घटना की जानकारी मिलते ही सुधाकर वेलादी और ग्रामीण घटनास्थल पर पहुंचे. ग्रामीणों की सहायता से दोनों बालकों के शव पानी के बाहर निकाले गये. उन्हें तत्काल पेरमिली के प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र में लाया गया. लेकिन यहां के वैद्यकीय अधिकारी ने उन्हें मृत घोषित किया.

    सुधाकर वेलादी के शिकायत पर पेरमिली पुलिस थाने में मामला दर्ज किया गया. मृतक बालकों के शव पोस्टमार्टम के लिये अहेरी के उपजिला अस्पताल में ले जाया गया है. मामले की अधिक जांच पेरमिली उपपुलिस थाने के प्रभारी अधिकारी धवल देशमुख कर रहे है. 

    दो भाईयों की मृत्यु से गांव में मांतग 

    सुधाकर वेलादी और रामदास वेलादी दो सगे भाई होकर अनुऔर बिराज यह दोनों चचेरे भाई होने के साथ ही दोनों एक साथ खेलते थे. इस दौरान मंगलवार को सुबह अनुप और बिराज खेलने के लिये गांव समीपस्थ खेत तालाब में गये. इस दौरान दोनों की सुधाकर वेलादी के खेत तालाब में डुबने से मृत्यु हो गयी. इस घटना की जानकारी ग्रामीणों को मिलते ही संपूर्ण गांव में शोक का वातावरण निर्माण हो गया. वहीं वेलादी परिवारों पर दुखों का पहाड़ टूट पड़ा है. 

    अहेरी उपविभाग में रही घटना की चर्चा 

    मंगलवार की सुबह अहेरी तहसील के चंद्रा गांव में दो भाईयों की खेत तालाब में डुबकर मृत्यु होने की घटना हवा की तरह फैलते ही संपूर्ण अहेरी उपविभाग के नागरिकों में खबलली मच गयी. वहीं  दोनों भाईयों की मृत्यु को लेकर दिनभर अहेरी उपविभाग में चर्चाएं जारी थी. विशेषत: दोनों मृतकों के परिवार काफी गरीब होकर मजदूरी कर अपना जीवनयापन करते है. ऐसे में दोनों घर के चिराग बुझ जाने से मृतकों से परिवारों की सांत्वना की जा रही है.