अज्ञात लोगों की पत्थरबाजी से दहशत में लोग, कुरूड़ गांव का मामला

    देसाईगंज. देसाईगंज तहसील के कुरूड़ गांव में पिछले तीन दिनों से रात के समय अज्ञात व्यक्तियों द्वारा लोगों के घरों पर पत्थरबाजी की जा रही है. इस घटना से संपूर्ण गांव में दहशत का वातावरण निर्माण हो गया है. मात्र अब तक घरों पर पत्थर फेंकनेवालों का पता नहीं चल पाने के कारण लोग दहशत में दिन काट रहे है.

    बता दे कि, पिछले तीन दिनों से कुरूड गांव के होली चौक में रात और तड़के अज्ञात लोगों द्वारा पत्थर और ईटे फेंकी जा रही है. 13 सितंबर की रात हुई पत्थरबाजी में रामा ढोरे व विनोद ढोरे की बेटी को पत्थर लगने की जानकारी मिली है. लेकिन अब तक पत्थर फेंकनेवालों का पता नहीं चल पाया है. ऐसे में लोग रातभर जागकर पत्थरबाजी करनेवालों पर निगरानी रखे हुए है. बावजूद इसके 14 और 15 सितंबर को तड़के चौक में पत्थरबाजी हुई है.

    इस मामले की जानकारी मिलते ही रात के समय शिवसेना के उपजिला प्रमुख तथा ग्रापं सदस्य अविनाश गेडाम चौक में पहुंचे. इस  समय उपस्थित लोगों ने अज्ञात लोगों द्वारा फेंके गये पत्थर उन्हें दिखाकर इस घटना से संपूर्ण गांव दहशत में होने की बात कही. लगातार तीनों से गांव में पत्थरबाजी होने के बाद भी अज्ञात पत्थरबाजों का पता नहीं चलते ने के कारण ग्रामीणों की नींद उड़ गयी है.

    पुलिस ने लगाया बंदोबस्त

    कुरूड़ गांव के चौक में अज्ञात सिरफिरे लोगों द्वारा अंधाधुंद पत्थरबाजी करने के कारण संपूर्ण गांव दहशत में आ गया है. रात होते ही लोगों में दहशत का वातावरण निर्माण हो रहा है. इस घटना की शिकायत ग्रामीणों ने देसाईगंज पुलिस थाने में करने के बाद पुलिस ने चौक व गांव परिसर में पुलिस बंदोबस्त रखा है. बावजदू इसके 15 सितंबर को तड़के भी पत्थरबाजी होने से इस घटना को लेकर लोगों में विभिन्न तरह की चर्चाएं शुरू हो गयी है.