paddy centers
File Photo

    गड़चिरोली. देसाईगंज खरीदी बिक्री संस्था ने पणन सीजन 2021-22 में समर्थनमुल्य किंमत खरीदी योजना अंतर्गत रब्बी धान खरीदी के लिए पूर्वतैयारी के तौर पर किसानों का ऑनलाईन पंजीयन कराया हे. किंतू जिला मार्केटिंग अधिकारी द्वारा जारी किए गए पत्र के अनुसार देसाईगंज तहसील के अपेक्षित धान खरीदी के उद्देश काफी कम है. इसका फटका अनेक किसानों को लगने की संभावना है. कम उद्देश के कारण देसाईगंज तहसील के अनेक किसान रब्बी समर्थनमुल्य धान बिक्री से वंचित रहने की बात कहीं जा रही है. 

     देसाईगंज खरीदी बिक्री संस्था ने रब्बी धान खरीदी करने के लिए पूर्वतैयारी के रूप में तहसील के 2652 किसानों का ऑनलाईन पंजीयन कराया है. किंतू सरकार ने देसाईगंज खरीदी बिक्री संस्था को 22 हजार क्विंटल धान खरीदी का उद्देश निश्चित किया है. तहसील के पंजीयन हुए किसानों की संख्या ध्यान में लेते हुए कमसेकम 1 लाख क्विंटल धान खरीदी का उद्देश सरकार द्वारा निश्चित करना अपेक्षित था. किंतू सरकार के समर्थनमुल्य धान खरीदी का उद्देश काफी कम है. जिससे सैंकड़ों किसानों को इसका फटका लगने की बात कहीं जा रही है. 

    जिले के 10 केंद्र के लिए 40 हजार क्विंटल का उद्देश 

    सरकारी परिपत्रक के अनुसार समर्थनमुल्य खरीदी योजना अंतर्गत रब्बी सीजन 2021-22 की धान खरीदी 1 मई को शुरू करने के निर्देश दिए है. जिसके तहत गड़चिरोली गड़चिरोली जिले में धान खरीदी के लि कुल 10 खरीदी केंद्रो को मंजूरी प्रदान की गई है. इस केंद्र पर कुल 4880 किसानों का पंजीयन हुआ है. जिससे चलते सरकार ने जिले के लिए कुल 40261.91 क्विंटल का उद्देश रखा है. 

    केंद्रनिहाय खरीदी के उद्देश 

    सहकारी शेतकी खरीदी बिक्री संस्था मर्या. देसाईगंज अंतर्गत 3 धान खरीदी केंद्रो को मंजूरी प्रदान की गई है. इसमें किन्हाला, वडसा, कोरेगांव इन केंद्रो का समावेश है. किन्हाला केंद्र के लिए 962 किसानों ने पंजीयन किया है, यहां 7908.69 क्विंटल धान खरीदी का अपेक्षित उद्देश है. वडसा केंद्र के लिए 797 किसानों ने पंजीयन किया है. यहां 6548.69 क्विंटल उद्देश, कोरेगांव केंद्र के लिए 893 किसानों ने पंजीयन किया है, यहां 7539.69 क्विंटल धान खरीदी का अपेक्षित उद्देश निश्चित किया गया है. कम किए गए उद्देश के कारण देसाईगंज सहकारी शेतकी खरीदी बिक्री संस्था के साथ ही तहसील के किसान अडचणों में ओन की संभावना है. 

    उद्देश बढाएं, अन्यथा नहीं करेंगे खरीदी 

    अपेक्षित धान खरीदी का उद्देश बढ़ाकर नहीं देने पर तहसील के अनेक किसान समर्थनमुल्य धान खरीदी केंद्र पर धान बिक्री से वंचित रहना निश्चित है. उक्त उद्देश काफी कम होने से किसानों पर अन्याय हो रहा है. किसानों का हित ध्यान में लेते हुए जबतक सरकार की ओर से धान खरीदी का उद्देश नहीं बढाया जाता है, तबतक धान खरीदी केंद्र शुरू न करने के भूमिका में देसाईगंज खरीदी बिक्री संस्था दिखाई दे रही है.