बैनर लगाते समय जनमिलिशिया नक्सल को पुलिस ने पकड़ा

    • पुलिस दल द्वारा गिरफ्तारी की कार्यवाही शुरू 

    गड़चिरोली. उपविभाग भामरागड़ अंतर्गत आनेवाले पुलिस मदद केंद्र कोठी के तहत कोठी जंगल परिसर में नक्सलियों के जनमिलीशिया सदस्य को गड़चिरोली पुलिस जवानों ने नक्सल बैनर लगाते समय रंगेहाथ पकड़ने में सफलता मिली. हिरासत में लिए गए नक्सल सदस्य का नाम तुमरकोडी निवासी लालसू चैतू मट्टामी है. जिला पुलिस दल द्वारा उसके गिरफ्तारी की कार्यवाही शुरू होने की जानकारी है. 

    21 सितंबर 2021 को नक्सलियों का विलय दिवस होकर उसके मद्देनजर नक्सली जिले के दुर्गम क्षेत्र में हिंसक गतिविधियों को अंजाम देते है. अतिदुर्गम गांवों में नक्सलियों का स्थानीय संगठन यानी जनमिलीशिया कार्यरत होकर हिरासत में लिया गया लालसु चैतु मट्टामी यह जनमिलीशिया सदस्य है.

    गड़चिरोली पुलिस दल की ओर से उसे नक्सलियों को मदद न करने की निरंतर सूचना दी गई थी. इसके बावजूद वह पुलिस की न सुनते हुए नक्सलियों को मदद कर रहा था. आज 20 सितंबर को कोठी जंगल परिसर में नक्सलियों के विलय दिवस के उपलक्ष्य में आम जनता में दहशत निर्माण करने के लिए नक्सली बैनर लगाते हुए लालसू मट्टामी पाया गया. उसके पास से नक्सल बैनर व अन्य साहित्य बरामद किए गए है.

    उक्त कार्रवाई को सफलतापूर्वक संपन्न कराने भामरागड़ के उपविभागीय पुलिस अधिकारी कुणाल सोनवने व कोठी पुलिस मदद केंद्र के प्रभारी अधिकारी पोलिस उपनिरीक्षक महेश घुगे ने प्रयास किया. नक्सलियों के विलय दिवस के मद्देनजर वरिष्ठ पुलिस अधिकारी के मरार्गदर्शन में जिले में नक्सल विरोधी अभियान तिव्र किया गया है. 

    विलय दिवस सप्ताह का निषेध करे-गोयल

    जनमिलीशिया सदस्य को रंगेहाथ पकड़नेवाले जवानों का पुलिस अधिक्षक अंकित गोयल ने विशेष प्रशंसा की है. वहीं विलय दिवस सप्ताह के मद्देनजर नक्सली हिंसक गतिविधियों को अंजाम देने का प्रयास करते है. जिसेस नक्सलियों के विलय दिवस सप्ताह को किसी तरह का सहयोग न करते हुए नागरिक इसका निषेध करे, ऐसा आह्वान पुलिस अधिक्षक ने किया है.